ताज़ा खबर
 

आरएसएस कार्यकर्ताओं पर रोहित वेमुला सुसाइड का विरोध कर रहे यूएसडीएफ छात्रों की पिटाई का आरोप

आरोप है कि दलित छात्र रोहित वेमुला की आत्‍महत्‍या के विरोधस्‍वरूप प्रदर्शन के दौरान हेदुआ पार्क में आरएसएस सदस्‍यों ने उनसे मारपीट की। आरएसएस ने आरोपों का खंडन किया है।
Author कोलकाता | January 27, 2016 12:59 pm
दलित शोषण मुक्ति सभा के सदस्य शिमला में हैदराबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय के शोधार्थी रोहित वेमुला की खुदकुशी मामले में इंसाफ मांगते हुए। (पीटीआई फोटो)

यूनाइटेड स्‍टूडेंट्स डेमोक्रेटिक फ्रंट( यूएसडीएफ) ने आरएसएस सदस्‍यों पर मारपीट करने का आरोप लगाया है। उनका आरोप है कि दलित छात्र रोहित वेमुला की आत्‍महत्‍या के विरोधस्‍वरूप प्रदर्शन के दौरान हेदुआ पार्क में आरएसएस सदस्‍यों ने उनसे मारपीट की। आरएसएस ने आरोपों का खंडन किया है। यूएसडीएफ समर्थकों का कहना है कि, जैसे ही वे हेदुआ पार्क के पास पहुंचे आरएसएस सदस्‍यों ने उन्‍हें रोकने की कोशिश की। ऐसा करने में असफल रहने पर मारपीट की। आरएसएस दफ्तर की ओर जाने लगे तो उन्‍हें गालियां दी गई। इस दौरान निर्दयता से मारपीट की गई और महिलाओं को भी नहीं छोड़ा गया।

इस बारे में आरएसएस ने कहा कि, ‘हमें सोशल मीडिया के जरिए पता चला कि वे हमारे दफ्तर के बाहर प्रदर्शन करेंगे। हमने उनके लिए मिठाई और पानी की व्‍यवस्‍था की। लेकिन हेदुआ के पास आने पर वे पवित्र धागे जलाने लगे गए। कुछ स्‍थानीय लोगों ने उनसे मारपीट की होगी लेकिन हम इसमें शामिल नहीं थे।’ पुलिस का कहना है कि यूएसडीएफ के 5 महिलाओं समेत 17 छात्रों को गिरफ्तार किया गया है। बाद में डिवीजनल कमिश्‍नर ने मौके का दौरा किया।

गौरतलब है कि पीएचडी स्‍कोलर रोहित ने इस महीने की शुरुआत में हैदराबाद यूनिवर्सिटी के होस्‍टल में फांसी लगा ली थी। इस घटना के बाद देशभर में कई जगहों पर प्रदर्शन हुए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.