ताज़ा खबर
 

UPSC Final Exam Results: कनिष्क कटारिया देशभर में टॉपर, महिलाओं में किसने मारी बाजी; यहां देखें पूरी लिस्ट

UPSC Final Exam Results: सृष्टि जयंत देशमुख की एआईआर रैंक पांच है।

UPSC Final Exam Results: तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (एक्सप्रेस फाइल फोटोः रवि कनौजिया)

UPSC Final Exam Results: संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) में सिविल सेवा (मुख्य) की अंतिम परीक्षा, 2018 के नतीजे शुक्रवार (पांच अप्रैल, 2019) को जारी कर दिए गए। परीक्षा परिणाम के मुताबिक, कनिष्क कटारिया ने देश भर में टॉप किया है और ऑल इंडिया रैंक (एआईआर)-1 हासिल की, जबकि महिलाओं में सृष्टि जयंत देशमुख सबसे आगे हैं। उनकी एआईआर रैंक पांच है। वहीं, छत्तीसगढ़ में नक्सली इलाके दंतेवाड़ा की रहने वाली नम्रता जैन ने एआईआर-12वीं रैंक हासिल की है।

ये भी चमकेः कटारिया के बाद दूसरे नंबर पर अक्षत जैन, तीसरे स्थान पर जुनैद अहमद और चौथे पर श्रेयंस कुमात के नाम हैं। वहीं, छठी रैंक पर शुभम गुप्ता ने कब्जा किया। उनके बाद सातवें स्थान पर करनति वरुण रेड्डी, आठवें पर वैशाली सिंह, नौंवे पर गुंजन द्विवेदी और 10वें नंबर पर तन्मय वशिष्ठ शर्मा ने जगह बनाई।

कितने उम्मीदवार हुए पास?: यूपीएससी की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक, सिविल सेवाओं के खाली पड़े पदों के लिए कुल 759 उम्मीदवार योग्य पाए गए हैं। मेन्स परीक्षा 28 सितंबर से सात अक्टूबर, 2018 तक चली थी।

UPSC Civil Services 2018 Result: ऐसे करें चेक

– सबसे पहले यूपीएससी की आधिकारिक वेबसाइट- upsc.gov.in पर जाएं।

– होमपेज पर ‘चेक रिजल्ट’ का टैब होगा, उस पर क्लिक कीजिए।

– अब एक पीडीएफ फाइल खुलेगी, जिसमें रोल नंबर के साथ चुने गए अभ्यर्थियों के नाम होंगे।

– आप चाहें तो इस फाइल को डाउनलोड कर सकते हैं या फिर उसका प्रिंट भी निकाल सकते हैं।

हेल्पलाइन नंबर भी हुए जारीः परीक्षा परिणाम को लेकर किसी प्रकार की शंका या सवाल हों, तब अभ्यर्थी इन नंबर्स- 23385271 / 23381125 / 23098543 पर संपर्क साध सकते हैं। हालांकि, इन पर वर्किंग डे में सुबह 10 से शाम पांच बजे के बीच ही बात की जा सकेगी, जबकि परीक्षा में पास हुए अभ्यर्थियों के अंक 15 दिनों में उपलब्ध कराए जाएंगे।

यहां भर्ती के लिए होती है परीक्षाः सिविल सेवा परीक्षा के जरिए भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस), भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस), भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) और अन्य केंद्रीय सेवाओं (ग्रुप ‘ए’ और ग्रुप ‘बी’) के लिए अधिकारियों का चयन होता है। फरवरी से इनके लिए पर्सनैलिटी टेस्ट शुरू हुआ था।

2018 में कौन था टॉपर?: बता दें कि हर साल लगभग 11 लाख अभ्यर्थी इस प्रतिष्ठित परीक्षा में बैठते हैं। साल 2018 में दुरिशेट्टी अनुदीप ने यूपीएससी की सिविल सेवा परीक्षा में टॉप किया था। सिविल सेवा (मेन्स) परीक्षा, 2018 के पूरे नतीजे देखने के लिए यहां क्लिक करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App