ताज़ा खबर
 

दो गोलियां लगने के बाद 10 घंटे कुएं में पड़ी रही 13 साल की गैंगरेप पीडि़ता, फिर कैसे बची? पढ़ें पूरी कहानी

पीडि़त लड़की के मुताबिक, 22 नवंबर 2015 को ग्रेटर नोएडा में मार्केट से घर लौट रही थी। इसी दौरान सफेद रंग की एसयूवी में तीन लोग आए और उसे अगवा कर एक फार्म हाउस पर ले गए।

Author ग्रेटर नोएडा | January 11, 2016 6:23 PM
राजस्थान में दो महिलाओं से दुष्कर्म। (प्रतीकात्मक फोटो)

गैंगरेप की शिकार 13 साल की एक लड़की, जिसे 2 गोलियां मारी गई थीं, वह करीब 10 घंटे तक एक कुएं में पड़ी रही, लेकिन कोई मदद के लिए नहीं आया। जिदंगी की उम्‍मीद कम थी और शरीर में ताकत भी नहीं बची थी, फिर भी उसने हौसला नहीं छोड़ा। वह आज जीवित है और उसने एनडीटीवी के साथ बातचीत में बयां की है आपबीती।

पीडि़त लड़की के मुताबिक, 22 नवंबर 2015 को ग्रेटर नोएडा में मार्केट से घर लौट रही थी। इसी दौरान सफेद रंग की एसयूवी में तीन लोग आए और उसे अगवा कर एक फार्म हाउस पर ले गए। करीब 15 दिन तक उसके साथ लगातार बलात्‍कार किया गया। फिर अचानक 5 दिसंबर 2015 की रात तीन लोग लड़की को एक खुली जगह पर लेकर गए और उसे दो गोलियां मारीं। लड़की किसी भी तरह जीवित न बचे, इसलिए उन्‍होंने उसे एक खेत के बीच बने कुएं में फेंक दिया।

लड़की को जिस वक्‍त कुएं में फेंका गया, तब उसके शरीर पर कपड़े नहीं थे। इतना अत्‍याचार होने के बाद लड़की ने हौसला नहीं छोड़ा। वह मदद के लिए चिल्‍लती रही और जब किसी ने जवाब नहीं दिया तो उसने खुद ही सीने में लगी एक गोली को बाहर निकाल दिया। दूसरी गोली अब भी उसकी पीठ में मौजूद है। डॉक्‍टरों का कहना है इससे उसके स्‍वास्‍थ्‍य को कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

पीडि़त लड़की के मुताबिक, जिस कुएं में वह पड़ी हुई थी, वो किसी बब्‍बल नाम के शख्‍स का है। यह बात 6 दिसंबर 2015 की है। उस वक्‍त बब्‍बल अपनी भैंस चरा रहा था और उसका भतीजा कुंए के आसपास खेल रहा था। उसे कुएं के अंदर से आवाज सुनाई दी। 42 साल वर्षीय किसान बब्‍बल ने मीडिया को बताया कि पहले तो उन्‍हें यकीन नहीं हुआ, लेकिन बाद में मैंने अपनी बाइक कुएं की तरफ मोड़ दी और लड़की आवाज सुनी। हमने तुरंत पुलिस को फोन किया और लड़की को बाहर निकालने के लिए कुएं में रस्‍सी फेंकी। बकौल बब्‍बल, ‘मैं अपनी पूरी जिंदगी में इतनी तेज कभी नहीं भागा। मैं बस उस लड़की को जिंदा देखना चाहता था।’

गांववालों ने लड़की को रस्‍सी पकड़ने के लिए कहा और फिर उसे कुएं से बाहर खींचा। लड़की के बाहर आते ही उसे कंबल से ढंक दिया गया। बब्‍बल ने बताया, ‘लड़की ने मुझसे कहा कि वह बहुत तकलीफ में है, लेकिन जीना चाहती है।’ इसके बाद लड़की को अस्‍पताल ले जाया गया, जहां से उसे घर भेज दिया गया। इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

बब्‍बल ने मीडिया से कहा, ‘उस लड़की से कहना वो बहुत बहादुर है। मुझे उम्‍मीद है वो जिंदगी में अच्‍छा काम करेगी। उसकी जिंदगी बचना एक चमत्‍कार है।’

Read Also: राजस्थान: नाबालिग से 5 महीने तक रेप करता रहा टीचर, इंटरनेट पर तस्वीर डालने की धमकी भी दी

Read Also: रेप के डर से जर्मनी में कोलोन सिटी सेंटर को घोषित किया महिलाओं के लिए असुरक्षित, न जाने की सलाह

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App