ताज़ा खबर
 

गुंडों की तरह युवक को पुलिस वालों ने पीटा, वीडियो वायरल होने के बाद SI और हेड कॉन्सटेबल सस्पेंड

वीडियो में पुलिसकर्मी युवक के गर्दन को अपने पैर में फंसा कर पिटाई करता दिखाई दे रहा है। वहीं हेड कॉन्स्टेबल युवक को पीछे से उसकी पीठ पर लात मार रहा है।

UP police, SI, head constable, viral video, Siddharthnagar, Rinku Pandey, SP Dharam Veer Singh, Khesraha police station, india news, Hindi news, news in Hindi, latest news, today news in Hindiपुलिस को इस संबंध में अभी पीड़ित की तरफ से कोई शिकायत नहीं मिली है। (प्रतीकात्मक फोटो)

उत्तर प्रदेश में पुलिस वालों द्वारा एक युवक को गुंडों की तरह बुरी तरह से पीटने का मामला सामने आया है। घटना मंगलवार को सिद्धार्थनगर जिले खेसराहा थाना क्षेत्र की है। घटना का वीडियो सामने आने के बाद एक पुलिस सब-इंस्पेक्टर और हेड कॉन्स्टेबल को बर्खास्त कर दिया गया है।

वीडियो में दो पुलिसवाले एक युवक को लातों, थप्पड़ों से बुरी तरह से जमीन पर घसीट कर पीटते हुए नजर आ रहे हैं। वीडियो में युवक पुलिस से लगातार खुद को जाने देने की गुहार लगा रहा है। अंत में युवक गुनाहगार होने की स्थिति में जेल डालने की गुजारिश करता दिखाई दे रहा है। इसके बावजूद पुलिस उसे सार्वजनिक रूप से बुरी तरह से पीट रही है।

युवक के साथ वीडियो में एक बच्चा भी दिखाई दे रहा है। पुलिस वाले बच्चे के सामने ही निर्ममता से युवक को पीट रहे हैं। वीडियो में बच्चा भी बिल्कुल सहमा दिखाई दे रहा है। वीडियो में दिखाई देने वाले पुलिसकर्मी की पहचान एसआई वीरेंद्र मिश्रा के रूप में हुई है। पुलिसकर्मी युवक के गर्दन को अपने पैर में फंसा कर पिटाई करता दिखाई दे रहा है।


वहीं हेड कॉन्स्टेबल युवक को पीछे से उसकी पीठ पर लात मार रहा है। आश्चर्य की बात है कि युवक की लगातार पिटाई के बावजूद कोई भी आदमी मामले में बीच बचाव नहीं कर रहा है। वीडियो में पिटाई खाने वाले युवक की पहचान रिंकू पांडे के रूप में हुई है।

वहीं पुलिस का दावा है कि युवक ने शराब पीने के बाद मोहल्ले के अन्य युवक के साथ गाली गलौज की थी। सिद्धार्थनगर के एसपी धरम वीर सिंह ने कहा कि हमने पहले आरोपी पुलिसवालों को लाइनहाजिर कर दिया है। जांच के बाद उनके इस व्यवहार के लिए सस्पेंड किया जाएगा। मंगलवार को मुहर्रम के दिन हमे सूचना मिली थी कि रिंकू पांडे नाम का युवक अख्तर नाम के अन्य युवक को गाली दे रहा था।

सूचना के बाद एसआई वीरेंद्र मिश्रा और हेड कॉन्सटेबल महेंद्र प्रसाद वहां पहुंचे थे। पुलिस वालों ने इस घटना को अस्वीकार्य तरीके से निपटा। यह बेहद ही घृणित और निंदनीय है। एसपी सदर की जांच के बाद हमने पुलिसवालों को सस्पेंड कर दिया है। एसपी ने बताया कि युवक को बाद में छोड़ दिया गया। पुलिस को इस मामले में अभी कोई शिकायत नहीं मिली है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 आरएसएस नेता ने पूछा- 16 करोड़ होकर भी अकेले मुसलमानों को ही क्‍यों लगता है डर?
2 आजम खान पर मुकदमों की लिस्ट हुई लंबी, अब पायल और बकरी लूट का केस दर्ज
3 सपा विधायक नाहिद हसन पर केस दर्ज, गाड़ी के पेपर मांगने पर SDM और सीओ से की थी गाली-गलौज
ये पढ़ा क्या...
X