यूपी चुनावः प्रियंका गांधी का फोकस महिला वोटों पर, स्मार्टफोन और इलेक्ट्रॉनिक स्कूटी देने का किया वादा

प्रियंका गांधी ने एक वीडियो ट्वीट किया है जिसमें एक न्यूज चैनल के रिपोर्टर से कुछ छात्राओं ने प्रियंका से अपनी मुलाकात के अनुभव को शेयर किया है।

Priyanka Gandhi
प्रियंका ने एक ट्वीट में कहा, 'मैं कुछ छात्राओं से मिली, उन्होंने कहा कि उन्हें पढ़ाई और सुरक्षा के लिए स्मार्टफोन की जरूरत है।' (File Photo)

यूपी चुनाव को देखते हुए कांग्रेस काफी एक्टिव नजर आ रही है। कांग्रेस महासचिव और उत्तर प्रदेश इकाई की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरुवार को घोषणा की है कि अगर उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश में सत्ता में आती है, तो वह लड़कियों को स्मार्टफोन और इलेक्ट्रॉनिक स्कूटी देंगी।

प्रियंका ने एक ट्वीट में कहा, ‘मैं कुछ छात्राओं से मिली, उन्होंने कहा कि उन्हें पढ़ाई और सुरक्षा के लिए स्मार्टफोन की जरूरत है। मुझे खुशी है कि घोषणापत्र समिति की सहमति से यूपी कांग्रेस ने आज फैसला किया है कि सरकार बनने पर इंटर पास करने वाली लड़कियों को स्मार्टफोन देंगे और ग्रेजुएशन करने वाली छात्राओं को स्कूटी देंगे।’

प्रियंका गांधी ने एक वीडियो ट्वीट किया है जिसमें एक न्यूज चैनल के रिपोर्टर से कुछ छात्राओं ने प्रियंका से अपनी मुलाकात के अनुभव को शेयर किया। छात्राओं ने बताया कि उनकी प्रियंका गांधी से मुलाकात अच्छी रही और वह चाहती हैं कि प्रियंका यूपी की सीएम बनें। छात्राओं ने ये भी बताया कि उनके पास न तो फोन हैं और न ही उन्हें कॉलेजों में जाने की अनुमति है।

वीडियो में एक अन्य छात्रा ने कहा कि प्रियंका ने हमें कड़ी मेहनत से अध्ययन करने के लिए कहा है। मैं चाहती हूं कि वह हमसे इसी तरह मिलती रहें और इसी तरह बात करें।

बता दें कि महिलाओं के वोटों को हासिल करने की दिशा में कांग्रेस का ये प्रमुख कदम माना जा रहा है। इससे पहले प्रियंका गांधी ने आगामी विधानसभा चुनावों के लिए घोषणा की थी कि उनकी पार्टी महिलाओं को 40 प्रतिशत टिकट देगी। उन्होंने उन महिलाओं का भी स्वागत किया था, जो व्यवस्था में बदलाव लाना चाहती हैं।

उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में घोषणा की थी कि कोई भी महिला जो चुनाव लड़ना चाहती है, वह 15 नवंबर तक आवेदन दे सकती है। बाद में राहुल गांधी ने ट्वीट किया था कि देश की बेटी कहती है कि अपनी मेहनत से, शिक्षा के बल से, उचित आरक्षण से मैं आगे बढ़ सकती हूं।

बता दें कि उत्तर प्रदेश में 1989 से सत्ता से बाहर होने के कारण कांग्रेस आगामी चुनाव में पैर जमाने की कोशिश कर रही है। जिन मुद्दों को वो उठा रही है, उससे वोटों पर काफी असर होगा और नतीजे कांग्रेस के लिए बेहतर हो सकते हैं।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
क्लोजर रिपोर्ट पर सफाई के लिए सीबीआइ ने मांगी मोहलतCoal Scam, Coal, Coalgate, CBI, Report, National News
अपडेट