scorecardresearch

दूसरों कुछ सूबों की तरह यूपी में नहीं हुए दंगे, सीएम योगी बोले- दान में गए मस्जिदों के लाउडस्पीकर

सीएम योगी ने कहा कि आपने सुना होगा कि या तो मस्जिदों में लाउडस्पीकर की आवाज कम हो गई है या फिर पूरी तरह से लाउडस्पीकर हटा दिया गया है।

CM Yogi, UP news, up govt
उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ (फोटो सोर्स: ट्विटर/@myogiadityanath)।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़ी दो राष्ट्रीय साप्ताहिक पत्रिकाओं, ऑर्गेनाइजर और पांचजन्य के 75 साल पूरे हुए। इस मौके पर दिल्ली में हुए एक कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने कार्यकाल में हुए कार्यों को गिनवाया। उन्होंने कहा कि यूपी में भाजपा सरकार में ईद के मौके पर सड़कों पर नमाज पढ़ना बंद हो गया। इसके अलावा मस्जिदों से उतारे गये लाउडस्पीकरों को स्कूलों और अस्पतालों को दान कर दिया गया।

उन्होंने कहा कि कई राज्यों में विधानसभा चुनाव खत्म होने के बाद राजनीतिक दंगे हुए लेकिन यूपी में चुनाव के दौरान या उसके बाद कोई दंगा नहीं हुआ। हमारी सरकार बनने के बाद रामनवमी धूमधाम से मनाई गई और हनुमान जयंती समारोह भी शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हुआ। सीएम योगी ने कहा कि यह सब उस यूपी में हुआ जहां छोटी-छोटी बातों पर दंगे होते थे। लेकिन अब आपने देखा होगा कि पहली बार ईद के दौरान सड़कों पर नमाज नहीं पढ़ी गई।

सीएम योगी ने कहा कि आपने सुना होगा कि या तो मस्जिदों में लाउडस्पीकर की आवाज कम हो गई है या फिर पूरी तरह से लाउडस्पीकर हटा दिया गया है। हटाये गए लाउडस्पीकरों को स्कूलों और अस्पतालों में दान किया जा रहा है। सीएम योगी ने कहा कि प्रदेशभर में एक लाख से अधिक लाउडस्पीकरों की आवाज़ कम कर दी गई है।

उन्होंने कहा, “आपको याद होगा कि जब हमारी सरकार सत्ता में आई थी, तब राज्य के सभी अवैध बूचड़खानों को बंद कर दिया गया था। इससे पहले गोवंशों को अवैध बूचड़खानों में तस्करी कर लाया जाता था। हालांकि इसकी वजह से आवारा मवेशी सड़कों पर घूमते देखे गये और खेतों में फसलों का नुकसान करने लगे। इससे निपटने के लिए हमने 5,600 से अधिक पशु आश्रयों की स्थापना की।

यूपी के मुख्यमंत्री ने कहा कि मथुरा, वृंदावन और चित्रकूट जैसे तीर्थ स्थलों का पुनरोद्धार हुआ। हर विधानसभा क्षेत्र में सरकार तीर्थ स्थल विकसित कर रही है। वहीं यूपी में बिजनेस को लेकर सीएम योगी ने कहा कि ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में यूपी भारत में दूसरे नंबर पर पहुंच गया है। और जीवन की सुगमता के मामले में यूपी नंबर 1 है। देश में अधिकांश ढांचागत विकास यूपी में हो रहा है और राज्य अब एक्सप्रेसवे के लिए जाना जाता है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट