ताज़ा खबर
 

यूपी की कमान संभाल रहे योगी तो सरहद पर देश की रक्षा कर रहे उनके भाई

योगी आदित्यनाथ के छोटे भाई शैलेंद्र मोहन इंडियन आर्मी में सूबेदार हैं और इस वक्त वह चीन से लगी भारत की सीमा पर गढ़वाल स्काउट्स यूनिट के साथ तैनात हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (IANS)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कामों के बारे और उनके काम करने के कड़क अंदाज के बारे में हर कोई जानता है, लेकिन बहुत ही कम लोग उनके परिवार के बारे में जानते हैं। आपको ये जानकर हैरानी होगी कि यूपी की जनता की रक्षा करने वाले सीएम योगी के भाई बॉर्डर पर दुश्मनों से पूरे देश की जनता की रक्षा कर रहे हैं। जी हां, योगी आदित्यनाथ के छोटे भाई शैलेंद्र मोहन इंडियन आर्मी में सूबेदार हैं और इस वक्त वह चीन से लगी भारत की सीमा पर गढ़वाल स्काउट्स यूनिट के साथ तैनात हैं। शैलेंद्र की तैनाती लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलओसी) में उत्तराखंड के माना रीजन में की गई है।

इंडिया टुडे के मुताबिक अपने काम को अपनी जान से भी ज्यादा चाहने वाले इस बहादुर सूबेदार का कहना है कि यह इलाका उनका घर बन गया है। शैलेंद्र ने बताया, ‘हम पूरे साल भर बॉर्डर पर तैनात रहते हैं और गश्त लगाते हैं। यह इलाका हमारा घर है और हम इसकी रक्षा हर हाल में करेंगे।’ सूबेदार से जब उनके भाई सीएम योगी को संदेश देने को कहा गया तब उन्होंने कहा, ‘योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में अपना काम ईमानदारी और लगन के साथ करें और वह जनता के लिए जितना अच्छा कर सकते हैं उतना करने की कोशिश करें।’ बता दें कि यूपी के मुख्यमंत्री का पद संभालने के बाद से योगी आदित्यनाथ और शैलेंद्र की मुलाकात केवल एक बार ही हुई है।

अपने भाई योगी आदित्यनाथ के बारे में बात करते हुए शैलेंद्र ने बताया कि उन्होंने और योगी ने बचपन में काफी समय साथ बिताया है। साथ ही यह भी बताया कि उनका परिवार योगी आदित्यनाथ को महाराजजी कहकर संबोधित करता है। इसके साथ ही सूबेदार शैलेंद्र ने यह भी कहा कि वो और उनके भाई देश के लिए एक जैसा काम करते हैं। उन्होंने कहा कि जैसे योगी उत्तर प्रदेश के सीएम के रूप में देश की सेवा कर रहे हैं तो वैसे ही वह भी आर्मी के जवान के रूप में देश की सेवा ही कर रहे हैं। बता दें कि सीएम योगी के तीन भाई हैं। उनके बड़े भाई का नाम मनवेंद्र मोहन है और उनके दो छोटे भाई शैलेंद्र और महेंद्र मोहन हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App