बुआ, बबुआ कहकर योगी ने अखिलेश, मायावती पर किया प्रहार, बोले- राम मंदिर बनवाने से किसने रोका था?

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिन्ना वाले बयान को लेकर भी सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर निशाना साधा। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ये जो दंगाई हैं, जिन्ना के अनुयायी हैं, ये गन्ने की मिठास को क्या समझ पाएंगे।

गोंडा में आयोजित कार्यक्रम में योगी आदित्यनाथ ने मायावती और अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा और कहा कि इनलोगों को राम मंदिर बनाने से किसने रोका था। (एक्सप्रेस फोटो)

उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शनिवार को बबुआ और बुआ कहकर अखिलेश यादव और मायावती पर निशाना साधा। योगी आदित्यनाथ ने दोनों पर निशाना साधते हुए कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बनवाने से किसने रोका था? 

शनिवार को गोंडा में आयोजित कार्यक्रम में योगी आदित्यनाथ ने राम मंदिर की चर्चा करते हुए कहा कि अयोध्या में प्रभु श्रीराम का भव्य मंदिर बनाने के लिए किसने रोका था। कांग्रेस को किसने रोका, बुआ को किसने रोका और बबुआ को किसने रोका। साथ ही उन्होंने कहा कि इन्हें तो पूरा मौका मिला था लेकिन उनकी सरकारों में भाई-भतीजे के लिए काम होता था। उनकी सरकारों में अपना-पराया था। जो आस्था का सम्मान करना जानते हैं, वह लोग अयोध्या में प्रभु श्रीराम के भव्य मंदिर का निर्माण करा रहे हैं।

इसके अलावा उन्होंने विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि ये लोग जातिवाद, क्षेत्रवाद, बेईमानी और भ्रष्टाचार फैलाते थे, दंगे करवाते थे, इनके दोहरे चरित्र में आप लोग कभी मत आना, इनके बहकावे में कभी मत आना, इनके बयानों से तो कभी गिरगिट भी शरमा जाए, ये लोग बार-बार रंग बदलते हैं। 

इस दौरान उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिन्ना वाले बयान को लेकर भी सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर निशाना साधा। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ये जो दंगाई हैं, जिन्ना के अनुयायी हैं, ये गन्ने की मिठास को क्या समझ पाएंगे। याद करिए जिन आतंकवादियों ने मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम की जन्‍मभूमि पर हमला किया था, उन आतंकवादियों के मुकदमे को बड़ी बेशर्मी के साथ वापस लेने का कार्य पिछली सरकार ने किया। 

आगे उन्होंने कहा कि धन्यवाद है इलाहाबाद उच्‍च न्‍यायालय का जिन्होंने पिछली सरकार की इस मंशा को पूरा नहीं होने दिया। हमारी सरकार आयी तो हमने प्रदेश को दंगा मुक्त किया और साढ़े चार वर्ष में एक भी दंगा नहीं हुआ। भाजपा की सरकार में आतंकवादियों को उनकी मांद में घुस घुसकर मारा गया।

इसके अलावा योगी आदित्यनाथ ने कृषि क्षेत्र में किए गए काम को लेकर भाजपा सरकार की जमकर पीठ थपथपाई और पूर्ववर्ती सरकारों को निशाने पर लिया। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2017 से पहले उत्तर प्रदेश के गन्ना किसानों या सामान्य किसानों की क्या स्थिति थी, यह आप सब लोग जानते हैं। किसान आत्महत्या कर रहा था तब प्रदेश में किसान अपनी मेहनत से अन्न का उत्पादन करता था लेकिन उसके क्रय की कोई व्यवस्था नहीं थी। (भाषा इनपुट्स के साथ)

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट