ताज़ा खबर
 

15 अक्टूबर से सिनेमाघर ‘Unlock’: 50% क्षमता के साथ दर्शकों के बीच रखी जाएगी 1 सीट की दूरी, ये हैं स्टैंटर्ड प्रोटोकॉल

सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि 50 प्रतिशत क्षमता के साथ 15 अक्टूबर से फिर खुलेंगे, जबकि दर्शकों के बीच एक सीट की दूरी रखनी होगी।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

Unlock 5.0 के तहत देश भर में 15 अक्टूबर से सिनेमा घर खुल जाएंगे। सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने इस बाबत मंगलवार को स्टैंडर्ड प्रोटोकॉल जारी किए। सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि 50 प्रतिशत क्षमता के साथ 15 अक्टूबर से फिर खुलेंगे, जबकि दर्शकों के बीच एक सीट की दूरी रखनी होगी।

नई दिल्ली स्थित अपने आवास पर पत्रकारों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘सिनेमा घर पिछले सात महीनों से बंद हैं। वे अब 15 अक्टूबर से खुलेंगे। लोगों की सुरक्षा के लिए हमने एसओपी तैयार की है। सिनेमा घरों में 50 प्रतिशत लोगों के बैठने की अनुमति होगी। एक कुर्सी छोड़कर बैठने की व्यवस्था की जाएगी। मास्क लगाना अनिवार्य होगा। साथ ही सैनिटाइजर जरूरी है।’’

जावड़ेकर ने बताया कि कोरोना से बचाव के बारे में जागरूकता फैलाने वाली एक मिनट की एक फिल्म दिखाया जाना या इस बारे में घोषणा किया जाना अनिवार्य होगा। वह बोले, ‘‘एक शो खत्म होने के बाद पूरा हॉल सैनिटाइज करना होगा तभी दूसरा शो आरंभ होगा। सिंगल स्क्रीन में टिकट बुकिंग के लिए ज्यादा खिड़कियां खोलनी होंगी। सभी जगह ऑनलाइन टिकट बुकिंग को बढ़ावा दिया जाएगा। पैक्ड खाना मिलेगा।’’

उन्होंने उम्मीद जताई की एसओपी का पालन होगा और लोग 15 अक्टूबर से सिनेमाघरों में जाकर फिल्में देख सकेंगे। इसके लिए उन्होंने सभी को शुभकामनाएं भी दीं। बता दें कि COVID-19 महामारी के चलते करीब सात महीनों से बंद थे। ये हैं SOPs:

– ऑडिटोरियम में 50 फीसदी क्षमता रहेगी। ये इससे अधिक नहीं होनी चाहिए।
– सीटिंग के दौरान फिजिकल/सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करना होगा।
– सीटों पर लिखा रहेगा कि कहां नहीं बैठना है।
– हाथ धोने और हैंड सैनिटाइजर्स का भी प्रावधान है।
– आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड कराने के साथ उसके इस्तेमाल की सलाह भी सभी को दी जाएगी।
– थियेटर/हॉल/मल्टीप्लेक्स के बाहर थर्मल स्क्रीनिंग कराई जाएगी। केवल बगैर लक्षण (कोरोना) वाले लोगों को ही एंट्री मिलेगी।

– खुद के स्वास्थ्य की मॉनिटरिंग करनी होगी। अगर कोई दिक्कत आती है, तो उस बारे में वहां के अधिकारियों को जानकारी देनी होगी।
– डिजिटल पेमेंट्स को बढ़ावा दिया जाएगा।
– बॉक्स ऑफिस और परिसर में अन्य जगहों की रोज साफ-सफाई होगी। उस इलाके को डिसइंफेक्ट भी करना पड़ेगा।
– बॉक्स ऑफिस पर पर्याप्त काउंटर खुलेंगे।
– दर्शकों को सलाह दी जाती है कि वे इंटरवल/इंटरमिशन के दौरान बीच में कहीं और न जाएं। सीट पर ही रहें।

– बॉक्स ऑफिस के आसपास और कतार में सोशल डिस्टैंसिंग का सही तरीके से पालन कराने के लिए फ्लोर मार्कर (जमीन पर निशान) का इस्तेमाल किया जाएगा।
– बॉक्स ऑफिस पर पूरे दिन टिकट बिकेंगी। भीड़ न हो, इसलिए एडवांस बुकिंग होगी।
– थूंकने पर कड़े तौर पर प्रतिबंध रहेगा।
– श्वास (सांस) संबंधी एटिकेट्स का भी कड़ाई से पालन कराया जाएगा।
– अंदर सिर्फ पैक किया खाने-पीने का सामान ही मिलेगा। हॉल के अंदर डिलीवरी की कोई सुविधा नहीं मिलेगी।
– खाने-पीने के सामानों से जुड़े कई काउंटर होंगे।

– कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग के लिए लोगों के नंबर लिए जाएंगे।
– बॉक्स ऑफिस पर पर्याप्त संख्या में काउंटर खुलेंगे, ताकि समस्या न हो।
– कोरोना से संबंधित दोषारोपण या फिर खराब व्यव्हार को लेकर कड़ाई के साथ पेश आया जाएगा।
– सभी जगह एसी की टेंप्रेचर सेटिंग 24 से 30 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगी।
– स्क्रीनिंग के बाद और इंटरमिशन के दौरान मास्क पहनने, फिजिकल डिस्टैंसिंग और हाथ साफ सुथरे रखने को लेकर घोषणाएं की जाएंगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 हाथरस केसः प्रशासन रात को न करता गैंगरेप पीड़िता का अंतिम संस्कार, तो सुबह हो जाता ‘हिंसा कांड’ – SC में बोली योगी सरकार
2 Coal Scam Case: दिलीप रे को दिल्ली के कोर्ट ने ठहराया दोषी, अटल सरकार में थे कोयला राज्य मंत्री
3 लॉकडाउन में दाने-दाने को मोहताज थे गरीब, सरकारी गोदाम में सड़ गया करीब 1600 टन अनाज; आत्मनिर्भर भारत में तहत भी नहीं हुआ है पूरा आवंटन
ये पढ़ा क्या?
X