ताज़ा खबर
 

दिल्ली-नतीजों पर सवाल पर प्रकाश जावड़ेकर ने नहीं दिया जवाब, कहा- पार्टी दफ्तर में पूछिएगा

चुनाव से पहले भाजपा के कई बड़े नेताओं ने दावा किया था कि दिल्ली में इस बार उनकी सरकार बनेगी। इनमें से एक नाम केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का भी है। लेकिन जब नतीजे आने के बाद उनसे इस पर सवाल पूछा गया तो जावड़ेकर ने जवाब देने से माना कर दिया।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर। (indian express)

दिल्ली विधानसभा चुनाव में एक बार फिर आम आदमी पार्टी (आप) ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए तीसरी बार दिल्ली की सत्ता में वापसी की है। आप ने 62 सीटों पर जीत दर्ज़ की वहीं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मात्र 8 ही सीट जीत पाई। इसी के साथ भाजपा का दिल्ली में वनवास और बढ़ गया। बीजेपी को पिछली बार 3 सीटें मिली थीं, जिसमें 5 का इजाफा हुआ है। जबकि आम आदमी पार्टी 2015 में 67 पर थी, इस बार 5 सीटों का नुकसान है। लेकिन चुनाव से पहले भाजपा के कई बड़े नेताओं ने दावा किया था कि दिल्ली में इस बार उनकी सरकार बनेगी। इनमें से एक नाम केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का भी है। लेकिन जब नतीजे आने के बाद उनसे इस पर सवाल पूछा गया तो जावड़ेकर ने जवाब देने से माना कर दिया।

द इंडियन एक्सप्रेस में छपे कॉलम दिल्ली कॉन्फिडेंशियल के मुताबिक बुधवार को मंत्रिमंडल के फैसलों पर साप्ताहिक प्रेस ब्रीफिंग के अंत में सरकार से संबंधित प्रश्न समाप्त होने के बाद, एक पत्रकार ने दिल्ली चुनाव परिणाम को लेकर जावड़ेकर से एक सवाल पूछ लिया। मुस्कुराते हुए जावड़ेकर ने कहा कि उन्हें पता था कि ये सवाल जरूर आएंगे। लेकिन उन्होंने कहा कि पार्टी के बारे में उनसे पार्टी कार्यालय में पूछताछ की जानी चाहिए ऐसे में इन सवालों के लिए मंत्रिमंडल से जुड़े सवालों की ब्रीफिंग सही मंच नहीं है।

हालांकि पत्रकारों ने उन्हें याद दिलाया कि उन्होंने राजनीतिक टिप्पणियों के लिए पहले भी इसी मंच का इस्तेमाल किया था, लेकिन जावड़ेकर, जो दिल्ली चुनावों के लिए भाजपा के प्रभारी थे, उन्होंने हार नहीं मानी और नतीजों पर बोलने से इनकार कर दिया।

बता दें दिल्ली विधानसभा चुनाव आयोग की ओर से घोषित अंतिम नतीजों के मुताबिक आप ने 53.57 फीसदी मतों के साथ कुल 62 सीटों पर जीत दर्ज की है। भाजपा को 38.51 प्रतिशत मत और आठ सीटों पर जीत मिली। वहीं, कांग्रेस लगातार दूसरी बार दिल्ली विधानसभा में अपना खाता नहीं खोल सकी।

बीजेपी ने जिन 8 सीटों पर जीत दर्ज की हैं, उनमें लक्ष्मी नगर, विश्वास नगर, रोहतास नगर, गांधी नगर, घोंडा, करावल नगर, रोहिणी और बदरपुर हैं।

Next Stories
1 Weather forecast: पंजाब, हरियाणा में तापमान में वृद्धि, सर्दी से राहत, दिल्ली-एनसीआर में खिली धूप
2 फिर बीजेपी का साथ छोड़ेंगे नीतीश? तेजस्वी नहीं तैयार, लालू से दखल दिलवाने पर विचार
3 ‘राजनीतिक दल वेबसाइट पर दें नेताओं का क्रिमिनल रिकॉर्ड’, राजनीति के अपराधीकरण पर सुप्रीम कोर्ट की बड़ी पहल
यह पढ़ा क्या?
X