ताज़ा खबर
 

केंद्रीय मंत्री बोले- नरेंद्र मोदी के पास भले ही MBBS डिग्री ना हो पर देश के सबसे अच्छे डॉक्टर

अर्जुन राम मेघवाल ने कहा, "कई अन्य ऐसे देश हैं जो 1947 में अंग्रेजों से आजाद हुए। हालांकि, भारत में उस तरह की आर्थिक वृद्धि नहीं हुई जैसी होनी चाहिए थी।"

Author पणजी | January 20, 2018 8:03 AM
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फाइल फोटो।

केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने शुक्रवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास भले ही एमबीबीएस की डिग्री नहीं हो लेकिन वह देश की बीमारियों को ठीक करने के लिए सबसे बढ़िया डॉक्टर हैं। जल संसाधन, नदी विकास और गंगा पुनरुद्धार राज्य मंत्री ने एमआरएआई अंतरराष्ट्रीय भारतीय धातु पुनर्चक्रीकरण सम्मेलन में यह टिप्पणी की। उन्होंने कहा, ‘‘कई अन्य ऐसे देश हैं जो 1947 में अंग्रेजों से आजाद हुए। हालांकि, भारत में उस तरह की आर्थिक वृद्धि नहीं हुई जैसी होनी चाहिए थी। ऐसा छह मुख्य बीमारियों की वजह से हुआ।’’

उन्होंने कहा, ‘‘इसमें कोई शक नहीं कि विकास हुआ है, लेकिन यह उस दर से नहीं हुआ है जो होना चाहिए था।’’ मेघवाल ने कहा कि गंदगी, भ्रष्टाचार, गरीबी, सांप्रदायिकता, जातिवाद और आतंकवाद वह छह बीमारियां हैं जिनकी पहचान प्रधानमंत्री मोदी ने की है। उन्होंने कहा कि ‘मेरा देश बदल रहा है, आगे बढ़ रहा है’ महज नारा नहीं है बल्कि देश के बदलाव की हकीकत है। मंत्री ने कहा कि तीन-चार साल पहले भारत आने वाले पर्यटक चौपाटियों पर कूड़े का ढेर पाते थे पर आज स्थिति बेहतर हुई है। उन्होंने कहा, ‘‘नारे ने लोगों की मानसिकता बदली है और लोग स्वच्छता के प्रति जागरूक हुए हैं।’’

वहीं दूसरी तरफ, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा है कि वह रोजगार सृजन, चीनियों को डोकालाम से बाहर करने और हरियाणा में बलात्कार रोकने के लिए अपनी योजना बताएं। गांधी ने मोदी से यह सवाल तब किया जब प्रधानमंत्री ने लोगों से कहा कि वे 28 जनवरी को प्रसारित होने वाले अगले ‘मन की बात’ कार्यक्रम के लिए अपने विचार रखें। इस वर्ष का यह पहला मन की बात कार्यक्रम होगा। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘‘प्रिय नरेंद्र मोदी, चूंकि आपने अपनी ‘मन की बात’ एकालाप के लिए कुछ विचार के लिए अनुरोध किया था, हमें बताइए (1). युवाओं को नौकरी (2). डोकलाम से चीनियों को बाहर निकालने (3). हरियाणा में बलात्कार रोकने के लिए आपकी क्या योजना है।’’


इससे पहले दिन में मोदी ने ट्वीट किया था, ‘‘मन की बात के लिए आपके विचार और जानकारी पढ़ने से हमेशा ही खुशी होती है। 28 जनवरी को प्रसारित होने वाले 2018 के पहले मन की बात कार्यक्रम के लिए आपके क्या सुझाव हैं। कृपया मुझे इस बारे में नरेंद्र मोदी मोबाइल ऐप पर बताएं।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App