union minister anant kumar hegde recieve death threats of beheaded and chopped in pieces - 'सर धड़ से अलग कर टुकड़े-टुकड़े कर देंगे', केंद्रीय मंत्री अनंत हेगड़े को मिली जान से मारने की धमकी - Jansatta
ताज़ा खबर
 

‘सर धड़ से अलग कर टुकड़े-टुकड़े कर देंगे’, केंद्रीय मंत्री अनंत हेगड़े को मिली जान से मारने की धमकी

आरोपी ने नेता को धमकाते हुए कहा, "तुम अपने आप को बहुत बड़ा नेता समझते हो, हम तुम्हारा सिर धड़ से अलग करके तुम्हारे शरीर को कई टुकड़ों में काट देंगे।" केन्द्रीय मंत्री ने ट्वीट कर इस मामले की जानकारी दी है।

केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े। (image source-ANI)

केंद्रीय मंत्री और कर्नाटक के उत्तर कन्नड़ जिले से भाजपा सांसद अनंत कुमार हेगड़े को जान से मारने की धमकी मिली है। केंद्रीय मंत्री को यह धमकी रविवार देर रात फोन पर दी गई। धमकी में आरोपी ने केंद्रीय मंत्री का सिर धड़ से अलग करने और टुकड़े-टुकड़े कर देने की बात कही है। फिलहाल, अनंत कुमार हेगड़े के निजी सुरक्षाकर्मी सुरेश गोविंद शेट्टी की शिकायत पर सिरसी पुलिस स्टेशन ने इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया है और मामले की जांच शुरू कर दी है।

खबर के अनुसार, केंद्रीय मंत्री के मोबाइल पर रविवार देर रात करीब 2 बजे अज्ञात नंबर से फोन आया। इसके कुछ देर बाद घर के लैंडलाइन नंबर पर फोन आया। इस बार अनंत हेगड़े की पत्नी ने फोन उठाया। केंद्रीय मंत्री की पत्नी का कहना है कि वह कन्नड़ में बात कर रहा था और उसने पूछताछ के बाद फोन काट दिया। कुछ समय बाद ही तीसरी बार लैंडलाइन फोन की घंटी बजी। इस बार खुद हेगड़े ने फोन उठाया। इसके बाद दूसरी तरफ से अनंत हेगड़े को जान से मारने की धमकी दी गई। आरोपी ने नेता को धमकाते हुए कहा, “तुम अपने आप को बहुत बड़ा नेता समझते हो, हम तुम्हारा सिर धड़ से अलग करके तुम्हारे शरीर को कई टुकड़ों में काट देंगे।” हेगड़े ने ट्वीट कर इस मामले की जानकारी दी है।

उल्लेखनीय है कि बीती 18 अप्रैल को भी अनंत हेगड़े के काफिले के वाहन को एक ट्रक ने टक्कर मार दिया था, जिसके बाद अनंत हेगड़े ने इस घटना को उनकी जान लेने के लिए किया गया हमला करार दिया था। हादसे के वक्त अनंत हेगड़े हावेरी जिले के रानेबेन्नूर तालुक से हालागेरी इलाके जा रहे थे। तभी रात 11.30 बजे एक ट्रक ने उनके काफिले की कार में टक्कर मार दिया। हेगड़े ने कहा था कि उनकी कार स्पीड में थी, इसलिए वह इस हमले में बाल-बाल बच गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App