ताज़ा खबर
 

पी चिदंबरम के ड्रीम प्रोजेक्ट को आगे बढ़ाएंगे अमित शाह, नैटग्रिड पर टॉप ऑफिसर्स गुरुवार को देंगे की-प्रजेंटेशन.

मुंबई में 26/11 के हमले के बाद तत्कालीन केंद्रीय गृहमंत्री पी. चिंदबरम ने नैडग्रिड और नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी का गठन किया था।

Union home minister, modi govt, Amit Shah, P Chidambara, Natgrid, national intelligence Grid, home ministry, intelligence agencies, core securities agencies, india news, Hindi news, news in Hindi, latest news, today news in Hindiकेंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के समक्ष अधिकारी नैटग्रिड को लेकर प्रेजेंटेशन देंगे। (फाइल फोटो)

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह अपने पूर्ववर्ती मंत्री पी. चिदंबरम के ड्रीम प्रोजेक्ट नेशनल इंटेलिजेंस ग्रिड (नैटग्रिड) के आगे बढ़ाने की दिशा में कदम उठाने वाले हैं। इंडिया टुडे की खबर के अनुसार गृह मंत्रालय के शीर्ष अधिकारी इस संबंध में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के एक प्रेजेंटेशन दिखाएंगे।

मुंबई में 26/11 के हमले के बाद तत्कालीन केंद्रीय गृह मंत्री पी. चिंदबरम ने नैडग्रिड और नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) का गठन किया था। 11 साल बीतने के बाद एनआईए तो अपना काम सफलता पूर्वक कर रही है लेकिन नैटग्रिड अभी भी संघर्ष ही कर रहा है।

नैटग्रिड के तहत सभी भारत सरकार के अंतर्गत सभी खुफिया सूचनाओं को से प्राप्त सूचनाओं का एक ऐसा डाटाबेस तैयार करना था, जिसे जरूरत पड़ने पर कोई भी सुरक्षा एजेंसी हासिल कर सके। खबर में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि अमित शाह ने ना सिर्फ इस प्रोजेक्ट में रुचि दिखाई है बल्कि साल के अंत कर इसे अंतिम रूप देने की मंशा है।

खबर में सूत्रों का कहना है कि दो वरिष्ठ अधिकारियों को बेहद ही देरी से चल रहे इस प्रोजेक्ट को आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी दी गई है। इनमें एक नाम साइंटिस्ट सौरभ गुप्ता का है। सौरभ नेशनल इन्फोर्मेटिक्स सेंटर शिमला में कार्यरत हैं। इन्हें सिस्टम में महत्वपूर्ण बदलाव करने की जिम्मेदारी दी गई है।

नैटग्रिड के लिए दूसरे महत्वपूर्ण अधिकारी के रूप में आशीष गुप्ता का नाम आ सामने आया है। आशीष गुप्ता नैटग्रिट के लिए पुराना नाम हैं। वह साल 2014 से नैटग्रिड में संयुक्त सचिव हैं। हालांकि, अब इन्हें सीईओ आशीष पटनायक के अंतर्गत इस परियोजना को फिर से आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी दी गई है। एजेंसी का ऑफिस दिल्ली के अंधेरिया मोड़ क्षेत्र में है।

यह ऑफिस अत्याधुनिक वैज्ञानिक उपकरणों और बड़े स्क्रीन के साथ लगभग पूरी तरह से तैयार है। इसके इंफ्रास्ट्रक्चर को अंतिम रूप देने की समय सीमा तय कर दी गई है। इस साल दिसंबर में इसके उद्घाटन का समय निर्धारित किया गया है। हालांकि, एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि यह प्रोजेक्ट मार्च तक ही तैयार हो पाएगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 उत्तर प्रदेश की जेलों में बंद हैं सैंकड़ों कश्मीरी राजनेता-छात्र-टीचर और व्यापारी, परिजनों को भी मुलाकात की अनुमति नहीं
2 कांग्रेस छोड़ भाजपा में आए हर्षवर्धन पाटिल, फडणवीस बोले- 5 साल से कोशिश कर रही थी बीजेपी
3 भारी जुर्माने पर बोले गडकरी- लोगों को अपने देश के नियमों की कद्र नहीं, विदेश जाते हैं तो मानने में नहीं होती दिक्कत, 1988 के 500 के बराबर आज के 5000 रुपए
ये पढ़ा क्या?
X