ताज़ा खबर
 

बेरोजगारी दर: हरकत में आई मोदी सरकार! NITI आयोग का बयान- रोजगार का डेटा अभी नहीं हुआ तैयार

बकौल राजीव कुमार, "अब डेटा संग्रह की प्रक्रिया बहुत बदल चुकी है। नए सर्वेक्षण में हम कंप्यूटर आधारित पर्सनल इंटरव्यूई का इस्तेमाल करते हैं। ऐसे में दोनों डेटा सेट्स की तुलना करना उचित नहीं होगा।"

Unemployment Rate, Narendra Modi, PM, BJP, NDA, NITI Aayog, Vice Chairman, Rajiv Kumar, Government Data, Jobs, Process, Release, Loksabha Elections, National News, Hindi Newsप्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार।

लोकसभा चुनाव से पहले बेरोजगारी दर पर पनप रहे सियासी बवाल को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार हरकत में आ गई है। गुरुवार (31 जनवरी, 2019) को नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने कहा है कि सरकार ने अभी तक (नौकरियों के संबंध में) डेटा तैयार नहीं किया है। यह प्रक्रिया फिलहाल जारी है। डेटा तैयार होते ही, उसे जारी कर दिया जाएगा।

कुमार ने इसके अलावा उस रिपोर्ट पर भी सफाई दी, जिसमें बीते 45 सालों में 2017-18 के दौरान सबसे अधिक बेरोजगारी रहने का दावा किया गया था। उन्होंने साफ किया, “अभी तक वह आंकड़ा सत्यापित नहीं किया गया है। डेटा तैयार करने की प्रक्रिया जारी है।”

बकौल राजीव कुमार, “अब डेटा संग्रह की प्रक्रिया बहुत बदल चुकी है। नए सर्वेक्षण में हम कंप्यूटर आधारित पर्सनल इंटरव्यूई का इस्तेमाल करते हैं। ऐसे में दोनों डेटा सेट्स की तुलना करना उचित नहीं होगा। इस डेटा का सत्यापन नहीं हुआ है, लिहाजा इसे अंतिम रिपोर्ट के रूप में इस्तेमाल करना ठीक नहीं होगा।”

उधर, इन्फोसिस के पूर्व सीएफओ मोहनदास पई ने कहा है कि नौकरियों पर यह आधिकारिक डेटा नहीं है। हमें नहीं पता कि वह सही भी है या नहीं। ऐसे में जब तक सरकार आंकड़े जारी नहीं करती, तब तक इंतजार किया जाना चाहिए। आज हमारे पास डेटाबेस के लिए वैकल्पिक स्रोत हैं, जो कि बताते हैं कि पिछले साढ़े चार सालों में भारी संख्या में नौकरियां सृजित की गईं।

‘रोजगार के नाम पर PM ने युवाओं से किया धोखा’: कांग्रेस ने ”नेशनल सैंपल सर्वे ऑॅफिस” (एनएसएसओ) के आंकड़े पर आधारित एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। आरोप लगाया कि रोजगार के नाम पर देश के युवाओं के साथ धोखा किया गया। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दावा किया कि हर साल दो करोड़ नौकरियां देने का वादा करने वाले पीएम का रिपोर्ट कार्ड ‘राष्ट्रीय त्रासदी’ के रूप में सामने आया।

राहुल गांधी बोले- राष्ट्रीय त्रासदी है PM का रिपोर्ट कार्डः राहुल के ट्वीट के मुताबिक, “नौकरी नहीं है। नेता ने हर साल दो करोड़ नौकरियों का वादा किया था। उनका लीक्ड रिपोर्ट कार्ड राष्ट्रीय त्रासदी के रूप में सामने आया है।” राहुल ने इसी मसले पर फेसबुक पोस्ट कर कहा, ‘‘सच छिप नहीं सकता। दफ्न नहीं हो सकता। बीज की तरह होता है। दफ्न करने वाले को उसके कद का अंदाजा कराने में उसे देर नहीं लगती। नरेंद्र मोदी का देश के युवाओं के साथ किया गया विश्वासघात, आज, सबके सामने है।’’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 CBI के पूर्व प्रमुख आलोक वर्मा ने ठुकराया सरकार का आदेश, अब रिटायरमेंट के बाद हो सकती है कार्रवाई
2 लोकपाल की मांगः अन्ना हजारे के अनशन का दूसरा दिन, गांव के लोगों ने रखा बंद
3 राम मंदिर निर्माण पर शिवसेना की मोदी सरकार को नसीहत, इसे ‘कश्मीर’ मत बनाइए