ताज़ा खबर
 

IAF Strike: बालाकोट में भारत की सर्जिकल स्‍ट्राइक, सिद्धू बोले- भारतीय वायु सेना की जय हो!

पुलवामा आतंकी हमले के बाद अपने एक बयान से विवाद खड़ा करने वाले कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने मंगलवार को पाकिस्तानी सीमा के भीतर स्थित आतंकी ठिकानों पर वायुसेना की कारवाई की सराहना करते हुए कहा कि आतंकियों का विनाश अनिवार्य है।

Author Updated: February 26, 2019 2:17 PM
नवजोत सिंह सिद्धू ने मंगलवार को पाकिस्तानी सीमा के भीतर स्थित आतंकी ठिकानों पर वायुसेना की कारवाई की सराहना करते हुए कहा कि आतंकियों का विनाश अनिवार्य है।

पुलवामा आतंकी हमले के बाद अपने एक बयान से विवाद खड़ा करने वाले कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने मंगलवार को पाकिस्तानी सीमा के भीतर स्थित आतंकी ठिकानों पर वायुसेना की कारवाई की सराहना करते हुए कहा कि आतंकियों का विनाश अनिवार्य है। सिद्धू ने ट्वीट कर कहा, ‘‘ लोहा लोहे को काटता है, आग आग को काटती है,सांप जब डंक मारता है, उसका एंटीडोट विष ही है।आतंकियों का विनाश अनिवार्य है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘भारतीय वायु सेना की जय हो। जय हिन्द जय हिन्द की सेना ।’’

दरअसल, पुलवामा आतंकी हमले के बाद के बाद सिद्धू ने कहा था कि कुछ लोगों की हरकत के लिए पूरे पाकिस्तान को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता। उनके इस बयान को लेकर विपक्षी दलों के नेताओं ने निशाना साधा था। यहां तक कि कांग्रेस ने आधिकारिक रूप से कहा था कि सिद्धू को देश की भावना के अनुरूप बयान देना चाहिए। गौरतलब है कि भारतीय वायु सेना के लड़ाकू विमानों ने मंगलवार को तड़के नियंत्रण रेखा के दूसरी ओर पाकिस्तानी हिस्से में कई आतंकी शिविरों पर बमबारी की।

सरकार से जुड़े सूत्रों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि यह कार्रवाई जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को आतंकी गुट जैश ए मोहम्मद द्वारा किए गए आत्मघाती हमले के ठीक 12 दिन बाद की गई है। पुलवामा हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 IAF Strike: 1971 की जंग के बाद पाकिस्तान में पहली बार घुसी भारतीय वायुसेना!
2 IAF Strike: कुमार विश्‍वास का तंज- अब कोई सबूत मांगे तो सौ-दो सौ ग्राम बम उनपर भी गिरा देना
3 IAF Strike: बालाकोट में जैश के कैंप पर वायुसेना का हमला, पढ़ें भारतीय विदेश सचिव का बयान