ताज़ा खबर
 

माता-पिता के आधार से लिंक होगा 5 साल से कम उम्र के बच्‍चों का आधार कार्ड, ये है तरीका

UIDAI AADHAAR: बच्चे के माता-पिता का आधार और बच्चे का बर्थ सर्टिफिकेट, बच्चे के आधार एनरॉलमेंट के लिए पर्याप्त डॉक्युमेंट होते हैं। बच्चे की उम्र पांच साल होने पर आधार में बच्चे की बायोमीट्रिक डिटेल्स अपडेट करानी होंगी।

आधार देश में सभी के लिए जरूरी दस्तावेज बन गया है। 5 साल से कम उम्र के बच्चों के बायोमीट्रिक नहीं आते हैं। बायोमीट्रिक डिटेल्स मतलब फिंगरप्रिंट और आंख का रेटिना। इसलिए 5 साल की उम्र तक के बच्चों का आधार उनके माता-पिता के आधार से लिंक होगा। इसके लिए माता-पिता को अपने आधार और बच्चे के साथ आधार सेंटर जाना होगा। बच्चे की उम्र पांच साल होने पर आधार में बच्चे की बायोमीट्रिक डिटेल्स अपडेट करानी होंगी। बच्चे के माता-पिता का आधार और बच्चे का बर्थ सर्टिफिकेट, बच्चे के आधार के लिए एनरॉलमेंट के लिए पर्याप्त डॉक्युमेंट होते हैं। इसके अलावा, आधार एनरॉलमेंट के लिए पासपोर्ट, पैन कार्ड, सेंट्रल/स्टेट पेंशन पेमेंट ऑर्डर आदि डॉक्युमेंट भी मान्य हैं।

बच्चे के आधार से जुड़ी 5 जरूरी बातें
1- बच्चे के आधार डाटा में बायोमीट्रिक जानकारी जैसे फिंगरप्रिंट और आईरिस स्कैन शामिल नहीं होती हैं।
2- बच्चे की उम्र पांच साल होने के बाद आधार में बायोमीट्रिक्स डाटा जरूर अपडेट करा लें।
3- बच्चे के आधार कार्ड के लिए अप्लाई करने के लिए माता-पिता में से किसी एक के पास आधार होना चाहिए। इसके अलावा बच्चे का बर्थ सर्टिफिकेट भी होना चाहिए।
4- बच्चे के आधार के लिए माता-पिता में से जिसके पास आधार है, उन्हें बच्चे के साथ आधार सेंटर जाना होगा।
5- पहचान दस्तावेजों के चार श्रेणियां हैं। इनमें एक फोटो वाली आईडी जैसे पैन कार्ड, वोटर कार्ड, निवास का प्रमाण, पते का प्रमाण और जन्म तिथि शामिल हैं।

4 स्टेप में ऐसे करें आधार का बायोमीट्रिक डाटा लॉक
1-
सबसे पहले आधार कार्ड (UIDAI) की आधिकारिक वेबसाइट https://uidai.gov.in/ पर जाएं।
2- यहां आधार ऑनलाइन सर्विस में तीन विकल्प दिखाई देंगे। इनमें सबसे आखिरी वाले Aadhaar Service में तीसरे नंबर पर Lock/Unlock Biometrics का विकल्प होगा। अब इस पर क्लिक करें।
3- इस पर क्लिक करने के बाद नया पेज खुल जाएगा। यहां आपको अपना आधार नंबर और एक सिक्युरिटी कोड डालना होगा। इसे डालने के बाद नीचे आ रहे सेंड ओटीपी पर क्लिक करें। इस पर क्लिक करते ही आधार नंबर के साथ रजिस्टर मोबाइल नंबर पर ओटीपी आ जाएगा। अब ओटीपी डालकर लॉगिन कर लें।
4- अब अपना डाटा लॉक करने के लिए फिर से सिक्युरिटी कोड डालकर Enable पर क्लिक करें। यहां क्लिक करते ही “Congratulation! Your Biometrics is Locked” लिखा आ जाएगा।

Next Stories
1 चारा घोटाला: देवघर कोषागाार से अवैध निकासी मामले में लालू प्रसाद यादव की जमानत याचिका खारिज
2 बीजेपी सांसद की ओवैसी को सलाह- कहीं और जीत नहीं सकते, पाकिस्तान-बांग्लादेश में जाकर बना लें पार्टी
3 उद्धव ठाकरे बोले- पीएनबी घोटाले की वजह से ठंडे बस्‍ते में चला गया राफेल घोटाला
ये पढ़ा क्या?
X