ताज़ा खबर
 

राजपथ पर पीएम मोदी को सलामी देंगे यूएई के सैनिक

इस बार गणतंत्र दिवस पर संयुक्त अरब अमीरात के प्रिंस जायद मुख्य अतिथि होंगे। वहीं यूएई के सैनिक राजपथ पर परेड़ करेंगे।

नई दिल्ली के राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड के लिए अभ्यास के दौरान यूएई के सैनिक। (PTI Photo/20 Jan, 2017)

अभी तक आपने 26 जनवरी को भारतीय सेनाओं को परेड़ करते देखा है लेकिन भारत के इतिहास में आप पहली इस 26 जनवरी संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के सशस्त्र बलों के सैनिक गणतंत्र दिवस की परेड में शामिल होंगे। पिछले साल के बाद यह दूसरा मौका है जब कोई विदेशी सेना राजपथ की परेड में हिस्सा ले रही है। पिछले साल  फ्रांस के सैनिक राजपथ पर नजर आए थे।परेड में इस बार 23 झांकियां राजपथ पर नजर आएंगी। भारत सरकार के मुताबिक यूएई के सैनिको को आधिकारिक तौर पर परेड में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया गया है। सोमवार से संयुक्त अरब अमीरात के सैनिक राजपथ पर रिहर्सल कर रहे हैं। यूएई के राजकुमार शेख मोहम्मद बिन जाएद अल नाह्यां गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि होंगे जो मंगलवार को दिल्ली पहुंचे।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उन्हें लेने स्वयं एयरपोर्ट पर पहुंचे। शेख मोहम्मद यूएई आर्म्ड फोर्सेज के डिप्टी सुप्रीम कमांडर भी हैं

पाकिस्तान का करीबी है यूएई- संयुक्त अरब अमीरात की पाकिस्तान के साथ नजदीकियां जग जाहिर हैं। यएई को पाकिस्तान के निकटतम सहयोगियों में गिना जाता है। भारत के साथ बढ़ती नजदीकियों से पाकिस्तान खुश नहीं है।

13 समझौतों पर हुए हस्ताक्षर- गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथी बने संयुक्त अरब अमीरात के बीच अबू धाबी के प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जाएद अल नाह्यां और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 13 समझौतों पर हस्ताक्षर किए। पीएम नरेंद्र मोदी ने अबूधाबी को अपना सच्चा दोस्त बताते हुए कहा कि दोनों देश एक दूसरे के सहयोगी है। भारत और यूएई के बीच 2015-16 में 50 अरब डालर का व्यापार हुआ। पीएम मोदी ने कहा कि रक्षा सहयोग पर समझौता रक्षा क्षेत्र में हमारे संबंधों को सही दिशा में ले जाने में मदद करेगा।

गणतंत्र दिवस की फुल ड्रेस रिहर्सल के चलते दिल्ली में लगा भारी ट्रैफिक जाम

गणपति विसर्जन से पहले लाल बाग के राजा के दरबार में हुई पूजा, वीडियो देखें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App