ताज़ा खबर
 

केवल दो देशों के पास हैं 92 फीसदी परमाणु हथियार, पाकिस्‍तान से थोड़ा पीछे भारत, जारी हुई ताजा रिपोर्ट

वर्तमान में भारत, चीन और पाकिस्तान के अलावा बिट्रेन के 215, फ्रांस के पास 300, इस्राइल के पास 80 और नोर्थ कोरिया के पास 10-20 परमाणु हथियार हैं।

nuclear warheadsतस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (फाइल फोटो)

स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट (SIPRI) ने परमाणु हथियारों से जुड़ी ताजा रिपोर्ट जारी की है। रिपोर्ट के मुताबिक सिर्फ दो देशों के पास दुनियाभर के 92 फीसदी परमाणु हथियार हैं। ये दोनों देश हैं अमेरिकी और रूस यानि रशिया हैं। रिपोर्ट में पाकिस्तान, चीन और भारत के परमाणु हथियारों की संख्याओं का भी जिक्र किया गया है। लिस्ट में परमाणु हथियार की संख्या के मामले में भारत, पाकिस्तान से थोड़ा पीछे हैं। आर्थिक मोर्च पर बुरी तरह पिछड़े पाकिस्तान के पास परमाणु हथियारों की संख्या 140-150 है जबकि भारत के पास 130-140 परमाणु हथियार हैं। बीते सोमवार (18 जून, 2018) को जारी की गई इस रिपोर्ट के मुताबिक इस मामले में पड़ोसी देश चीन दोनों मुल्कों से आगे है। चीन के पास करीब 280 परमाणु हथियार हैं। रिपोर्ट में कहा गया कि दुनिया की परमाणु शक्तियां अब इन हथियारों को धीरे-धीरे कम कर रही हैं लेकिन चिंता की बात ये शक्तियां परमाणु हथियारों का आधुनिकीकरण भी कर रही हैं। इससे इन देशों ने विश्व शांति के मोर्च को चिंता में डाल दिया है। SIPRI ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि परमाणु हथियारों के आधुनिकीकरण पर ध्यान देना एक बहुत ही चिंताजनक प्रवृत्ति है।

SIPRI प्रमुख जन एलिसन ने बताया कि दुनिया को परमाणु हथियार वाले देशों से परमाणु निरस्त्रीकरण की दिशा में एक प्रभावी, कानूनी रूप से बाध्यकारी प्रक्रिया के लिए स्पष्ट प्रतिबद्धता की जरुरत है। रिपोर्ट के मुताबिक इस साल के शुरुआत में विश्व के 9 देशों के पास परमाणु हथियार हैं। इसमें अमेरिका, रूस, ब्रिटेन, फ्रांस, चीन, भारत, पाकिस्तान, इस्राइल और नोर्थ कोरिया शामिल हैं। इन सभी देशों के परमाणु हथियारों की संख्या को मिला दे तो यह 14,465 बैठती है। इनमें 3,750 परमाणु हथियारों को वास्तव में तैनात भी किया गया।

हालांकि 2017 में परमाणु हथियारों की संख्या इससे ज्यादा थी। तब की रिपोर्ट के मुताबिक इन देशों के पास 14,935 परमाणु हथियार मौजूद थे लेकिन अमेरिका और रूस ने साल 2010 की START संधि के तहत हथियार नियंत्रण प्रतिबद्धता को पूरा करने के लिए अपने हथियारों की कटौती की। चौंकाने वाली बात यह है कि इन दो देशों के पास विश्व के 92 फीसदी परमाणु हथियार हैं। दोनों ही देश लंबे समय से परमाणु हथियारों का आधुनिकीकरण कर रहे हैं। वर्तमान में भारत, चीन और पाकिस्तान के अलावा बिट्रेन के 215, फ्रांस के पास 300, इस्राइल के पास 80 और नोर्थ कोरिया के पास 10-20 परमाणु हथियार हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 शादी के दिन ही दुल्‍हन ने किया ब्रेकअप, दोस्‍तों को लेकर हनीमून पर गई
2 ऑडी की लाखों कारों में लगाया गड़बड़ सॉफ्टवेयर, गिरफ्तार हुए कंपनी के चीफ एग्‍जीक्‍यूटिव
3 चीनी राजदूत चाहते हैं भारत-पाक-चीन करें सम्‍मेलन, भड़की कांग्रेस ने कहा- दखल न दे ड्रैगन
यह पढ़ा क्या?
X