ट्विटर ने केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद का अकाउंट किया ब्लॉक, एक घंटे बाद फिर किया चालू

ट्विटर ने आज केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद का ट्विटर अकाउंट एक घंटे के लिए ब्लॉक कर दिया। बाद में मंत्री के अकाउंट को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ने चालू कर दिया था।

twitter, BJP
ट्विटर ने आज मंत्री रविशंकर प्रसाद का ट्विटर अकाउंट एक घंटे बंद रखा।

ट्विटर ने आज केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद का ट्विटर अकाउंट एक घंटे के लिए ब्लॉक कर दिया। बाद में मंत्री के अकाउंट को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ने चालू कर दिया था। मंत्री ने बताया, ‘दोस्तों! आज कुछ बहुत ही अनोखा हुआ। ट्विटर ने लगभग एक घंटे के लिए मेरे अकाउंट को ब्लॉक कर दिया कि कथित तौर पर मैंने अमेरिका के डिजिटल मिलेनियम कॉपीराइट अधिनियम का उल्लंघन किया और बाद में उन्होंने मेरा काउंट अनब्लॉक कर दिया।’

केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘ट्विटर के कार्यों से संकेत मिलता है कि वे अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के साथ नहीं हैं जैसे कि वे होने का दावा करते हैं, लेकिन केवल अपने स्वयं के एजेंडे को चलाने में रुचि रखते हैं, इस धमकी के साथ कि यदि आप उनके द्वारा खींची गई रेखा को नहीं मानते हैं, तो वे आपको अपने मंच से मनमाने ढंग से हटा देंगे।’ मालूम हो कि एक दिन पहले ही बीजेपी नेता वरुण गांधी ट्विटर द्वारा उनको भारत सरकार की आपत्ति के बारे में बताए जाने पर भड़क उठे थे।

क्या है मामला: जब मंत्री और उनकी टीम ने ट्विटर अकाउंट में लॉग इन करने की कोशिश की तो @rsprasad ट्विटर ने यह कहते हुए एक संदेश दिखाया, “आपका अकाउंट लॉक कर दिया गया है क्योंकि ट्विटर को आपके ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट की गई सामग्री के लिए एक डिजिटल मिलेनियम कॉपीराइट एक्ट (डीएमसीए) नोटिस मिला है। ट्विटर ने बताया कि अमेरिकी नियमों के मुताबिक कॉपीराइट का उल्लंघन किया गया है। ट्विटर ने कहा कि बार-बार कॉपीराइट उल्लंघन होने पर अकाउंट को ब्लॉक कर दिया जाएगा।”


लगभग एक घंटे बाद, ट्विटर ने मंत्री के अकाउंट को एक चेतावनी संदेश पोस्ट करके अकाउंट को अनलॉक कर दिया, जिसमें कहा गया था, “आपका खाता अब उपयोग के लिए उपलब्ध है। कृपया ध्यान रखें कि आपके अकउंट के विरुद्ध किसी भी अतिरिक्त नोटिस के परिणामस्वरूप आपका खाता फिर से लॉक किया जा सकता है और संभावित रूप से ब्लॉक किया जा सकता है।”

ट्विटर ने मंत्री को बताया, ”इससे बचने के लिए, हमारी कॉपीराइट नीति का उल्लंघन करते हुए अतिरिक्त सामग्री पोस्ट न करें और अपने खाते से ऐसी किसी भी सामग्री को तुरंत हटा दें जिसके लिए आप पोस्ट करने के लिए अधिकृत नहीं हैं।”

मालूम हो कि इससे पहले मंत्री ने कहा था कि चाहे कोई भी प्लेटफॉर्म हो, उन्हें भारत के नए आईटी नियमों का पूरी तरह से पालन करना होगा और उस पर कोई समझौता नहीं होगा।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।