ताज़ा खबर
 

गौतम गंभीर और उमर अब्दुल्ला में भिड़ंत, क्रिकेटर के समर्थन में बोली बीजेपी- नेशनल कॉन्‍फ्रेन्स आतंकियों की मददगार

क्रिकेटर गौतम गंभीर ने दरअसल युवाओं की आतंकवादी बनने की बढ़ती तादाद के लिए राजनेताओं को जिम्मेदार बताया था। गंभीर ने कहा,'' उन्हें शर्म से सिर झुका लेने चाहिए कि उन्होंने एक युवा को किताबों से बंदूक को अपनाने की ओर बढ़ने के लिए छोड़ दिया।''

Author Updated: October 13, 2018 11:54 PM
जम्मू – कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला और क्रिकेटर गौतम गंभीर के बीच ट्विटर पर तीखी बहस हुई थी। बहस का मुद्दा हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी मन्नान वानी की मौत सेना के द्वारा एनकाउंटर में किया जाना था। इस मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी ने क्रिकेट खिलाड़ी गौतम गंभीर का समर्थन किया है जबकि अब्दुल्ला की निंदा की है।

जम्मू-कश्‍मीर भाजपा के प्रमुख रविंदर रैना ने मीडिया से कहा कि अब उन सभी को आईना दिखाया जाएगा जो आतंक का समर्थन कर रहे हैं। रैना ने कहा कि आतंकवादियों ने घाटी में कई निर्दोष लोगों और पुलिसकर्मियों की हत्या की है। हालांकि नेशनल कॉन्फ्रेंस परोक्ष रूप से उनका समर्थन कर रही है।

अब्दुल्ला पर भाजपा के दिए बयान पर, नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता मुस्तफा कमल ने मीडिया से कहा कि उमर पर आरोप लगाना दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा,” हालांकि वे पसंद करें या न करें लेकिन पाकिस्तान कश्मीर समस्या में साझीदार है। यदि वे इसे नहीं मानते हैं तो ये समस्या कयामत तक नहीं सुलझने वाली है।”

क्रिकेटर गौतम गंभीर ने दरअसल युवाओं की आतंकवादी बनने की बढ़ती तादाद के लिए राजनेताओं को जिम्मेदार बताया था। गंभीर ने कहा,” उन्हें शर्म से सिर झुका लेने चाहिए कि उन्होंने एक युवा को किताबों से बंदूक को अपनाने की ओर बढ़ने के लिए छोड़ दिया।”

गंभीर की टिप्पणी पर अब्दुल्ला ने जवाब दिया,” ये आदमी मनान का गृह जिला नक्शे पर भी नहीं ढूंढ सकता। उसका गांव ढूंढना तो दूर की बात है। इसके बाद भी ये अनुमान लगाने की कोशिश कर रहा है कि कौन सी बात कश्मीरी युवाओं को बंदूक उठाने के लिए मजबूर कर रही है। मिस्टर गंभीर साफतौर पर कश्मीर के बारे में कम जानते हैं। जैसे मैं क्रिकेट और उसके बारे में कम जानता हूं।”

बाद में गंभीर ने पूर्व मुख्यमंत्री पर आरोप लगाया कि वे पाकिस्तान को कश्मीर लाकर देश का नक्शा बदल रहे हैं और कश्मीरी युवाओं को व्यस्त रखने में उनकी भूमिका पर सवाल भी किया। बता दें कि आतंकवादी मन्नान वानी, आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन संगठन का आतंकी था। उसे गुरुवार को सुरक्षा बलों ने कुपवाड़ा में एनकाउंटर के दौरान मार गिराया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 नोटबंदी, जीएसटी के बाद एक और सुधार की ओर मोदी सरकार, ‘एक देश, एक स्टाम्प ड्यूटी’ की तैयारी
2 केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा- सरकारी नौकरियों में हो 75 फीसदी आरक्षण
3 नए विवाद को न्‍योता? सिद्धू बोले- दक्षिण भारत जाने से पाकिस्‍तान जाना बेहतर