ताज़ा खबर
 

TVF की पूर्व कर्मचारी का डायरेक्टर पर छेड़छाड़ का आरोप, दो और ने कहा- हमारे साथ भी ऐसा ही हुआ

महिला ने 'द इंडियन उबर- डेट इज टीवीएफ' नाम से एक अज्ञात ब्लॉग लिखकर छेड़छाड़ का जिक्र किया है।

द वारयल फीवर के सीईओ और संस्थापक अरुनाभ कुमार। ( Photo Source: linkedin.com)

ऑनलाइन एंटरटेनमेंट चैनल द वायरल फीवर की एक पूर्व कर्मचारी ने आरोप लगाया है कि कंपनी के सीईओ और संस्थापक अरुणाभ कुमार ने उसके ढाई साल के कार्यकाल में उसके साथ कई बार छेड़छाड़ की है। ‘द इंडियन उबर- डेट इज टीवीएफ’ नाम से एक अज्ञात ब्लॉग में उस महिला ने छेड़छाड़ की अलग-अलग घटनाओं का जिक्र किया है। महिला ने यह ब्लॉग ‘इंडियन फॉवलर’ के नाम से लिखा है। हालांकि, टीवीएफ ने अपने बयान में इन आरोपों का खंडन किया है।

महिला ने ब्लॉग में लिखा है कि उसकी कुमार से पहली बार मुलाकात मुंबई के एक कैफे में साल 2014 में हुई थी। कुमार ने दिल्ली यूनिवर्सिटी की उस ग्रेजुएट लड़की को अपनी कंपनी में नौकरी दे दी। वह लड़की बिहार के उसी शहर से हैं, जिससे कुमार ताल्लुक रखते हैं। महिला ने आरोप लगाया है कि उसके साथ पहली बार छेड़छाड़ तब हुई, जब उसे कंपनी में काम करते हुए केवल 21 दिन ही हुए थे। महिला ने लिखा है, ‘हम लोग बात कर रहे थे तभी मैंने कहा, अरुणाभ आप बड़े भाई हैं। मेरी तबियत थोड़ी ठीक नहीं है। क्या करना है बताईए। हम करके घर जाएंगे। तभी उसने अचानक मेरा हाथ पकड़ा और कहा मैडम थोड़ा रोल प्ले करें। मैं हैरान थी। तब से यह रूटीन बन गया। मेरे साथ बार-बार छेड़छाड़ हुई। पार्टी में अरुणाभ मुझे ऊपर उठाता था और मेरे ऊपर ऐसे गिरता था, जैसे उसने शराब पी रखी हो।’

महिला ने कहा कि पुलिस शिकायत की धमकी देने के बाद भी वह नहीं रुका। महिला ने दावा किया, ‘मैंने उसे कहा कि मैं पुलिस के पास चली जाऊंगी। उसने कहा कि पुलिस तो मेरी जेब में है।’ इसके साथ ही उसने दावा किया है कि मैंने मेरे सीनियर अधिकारियों से भी इस बारे में कहा, लेकिन उन्होंने कोई कदम उठाने की बजाय, कहा कि इसे छोड़ो। कुछ ने तो कहा कि ऐसा होता है। इस ब्लॉग के कमेंट में द वायर फीवर ने अपना आधिकारिक बयान लिखा है। इसमें उन्होंने इन आरोपों को खारिज किया है। इन आरोपों को झूठा, आधारहीन और अपुष्ट बताया गया है।

यहां पढ़ें पूरा ब्लॉग-

महिला ने कंपनी साल 2016 में छोड़ दी थी, लेकिन महिला का कहना है कंपनी की लीगल टीम उन्हें कॉन्ट्रेक्ट तोड़ने के बारे में नोटिस भेजती रहती है। हालांकि, अभी इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है कि पुलिस में शिकायत दर्ज हुई है या नहीं। जैसे ही यह ब्लॉग वायरल हुआ तो दो और महिलाएं इस महिला के समर्थन में आ गई। ब्लॉग के कमेंट में आयूषी अग्रवाल ने लिखा है कि कंपनी में मेरा अनुभव भी ऐसा ही रहा है।

एक अन्य महिला रीना सेनगुप्ता ने फेसबुक पोस्ट पर टीवीएफ के डायरेक्टर के साथ काम करने के अनुभव को शेयर किया है। सेनगुप्ता ने लिखा है, ‘हर शूट के बाद हम लोग मॉनिटर में देखने जाते थे कि शूट कैसा रहा, लेकिन उसी वक्त उसका हाथ मेरी कमर पर होता था।’

TVF के डायरेक्टर अरुनाभ कुमार पर पूर्व कर्माचारी ने लगाया छेड़छाड़ का आरोप

वीडियो- दिल्ली अभी भी सुरक्षित नहीं: जनवरी में 140 रेप केस, तो 200 से ज्यादा छेड़छाड़ के मामले दर्ज

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App