ताज़ा खबर
 

बीजेपी के अटपटे सवालों पर एंकर का वार, कहा- जब सारी दुनिया वैक्सीन बुक करा रही थी तब आप सुलझा रहे थे सुशांत की मिस्ट्री

पार्टी प्रवक्ता ने कहा, "पार्टी कार्यकर्ता, संगठन, मंत्री, एमपी, एमएलए, संघ परिवार सब लोग काम कर रहे हैं, उनके काम का वीडियो के साथ पूरी लिस्ट मैं दे सकता हूं। सब लोग अपना काम कर रहे हैं।"

यूपी के प्रयागराज में स्वरूप रानी नेहरू अस्पताल के लेवल-3 कोविड-वॉर्ड में ऑक्सीजन सपोर्ट पर भर्ती मरीज। (फोटोः पीटीआई)

देश में आक्सीजन, वैक्सीन और अस्पतालों में बेड की कमी तथा कोविड की वजह से लोगों के लगातार मरने पर उठ रहे सवालों के प्रति सरकारों का गैरजिम्मेदाराना रवैया चिंता का विषय बना हुआ है। इसको लेकर आम जनता में सरकार के प्रति बहुत गुस्सा है। सरकार का कहना है कि देश में वैक्सीन की कमी नहीं है, लेकिन इसके बावजूद पूरे देश से वैक्सीन न मिलने की शिकायतें रोजाना आ रही हैं।

इस मामले को लेकर टीवी चैनल न्यूज-24 पर डिबेट में एंकर संदीप चौधरी ने बीजेपी प्रवक्ता गोपाल कृष्ण अग्रवाल से सवाल पूछे। उन्होंने पूछा कि बीजेपी के कार्यकर्ताओं पर बंगाल में हमले को लेकर देश के विभिन्न हिस्सों में पार्टी धरना प्रदर्शन पर रही है। क्या पार्टी ने एक धरना कोविड से हो रही मौतों के खिलाफ दिया। पार्टी प्रवक्ता ने कहा, “पार्टी कार्यकर्ता, संगठन, मंत्री, एमपी, एमएलए, संघ परिवार सब लोग काम कर रहे हैं, उनके काम का वीडियो के साथ पूरी लिस्ट मैं दे सकता हूं। सब लोग अपना काम कर रहे हैं।” इस पर एंकर ने कहा जब सारी दुनिया वैक्सीन बुक करा रही थी तब आप सुलझा रहे थे सुशांत की मिस्ट्री, आप ने क्यों नहीं किया।

भाजपा प्रवक्ता गोपाल कृष्ण अग्रवाल ने कहा कि आप मीडिया के आदमी है, क्या आपने धरना दिया। एंकर संदीप चौधरी ने कहा कि क्या अब मीडिया सरकार का काम करेगा। सरकार की जिम्मेदारी केवल अपने कार्यकर्ता तक ही है। क्या आम जनता जो कोविड से मर रही है, उसके प्रति पार्टी की कोई जिम्मेदारी नहीं है। प्रवक्ता गोपाल कृष्ण अग्रवाल ने कहा कि सरकार अपने स्तर से सबसे बेहतर काम कर रही है, लेकिन आप को वह दिखता नहीं है। इसलिए आप ऐसा कह रहे हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार दिन रात लगी रही, लेकिन दिक्कतें आई हैं और सरकार उनको सुलझाने में जुटी है। इसमें समय लग रहा है, लेकिन आप सरकार पर आरोप नहीं लगा सकते हैं।

इस बीच मंगलवार को गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने जानकारी दी कि देश भर में ऑक्सीजन की आपूर्ति में तेजी लाने के लिए केंद्र ने कई कदम उठाए हैं, जिनमें खाली टैंकरों को हवाई मार्ग से ढोने और 500 चालकों को प्रशिक्षण देने का काम शामिल है। केंद्रीय गृह मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव पीयूष गोयल ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि देश में भविष्य की जरूरतों को देखते हुए विदेशों से 5805 एमटी तरल मेडिकल ऑक्सीजन का आयात किया जा रहा है।

अधिकारी ने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि इनमें से 3440 मीट्रिक टन (एमटी) संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) से, 1505 एमटी कुवैत से, 600 एमटी फ्रांस से, 200 एमटी सिंगापुर से और 60 एमटी बहरीन से मंगाया जा रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘वर्तमान में देश में ऑक्सीजन का पर्याप्त भंडार है।’’ गोयल ने कहा कि जहां भी ऑक्सीजन मौजूद है वहां से इसके आयात के लिए फास्ट ट्रैक व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि आपूर्ति में कम समय लगे, इसके लिए रेलवे और वायुसेना की सेवाएं ली जा रही हैं।

Next Stories
1 बीजेपी प्रवक्ता ने बताए वैक्सीन स्टॉक के आंकड़े तो एंकर ने यूं लिया आड़े हाथ, देखें
2 पतंजलि के आचार्य बालकृष्ण ने शेयर किया धुएं से कोरोना का इलाज वाला वीडियो, लोग कर रहे ऐसे कमेंट
3 लगता है उद्धव ठाकरे मॉडल सीएम बन गए हैं- बीजेपी सांसद की टिप्पणी
ये पढ़ा क्या?
X