ताज़ा खबर
 

Hyderabad Suicide Case: रोहित के Facebook पेज से हुआ आत्महत्या के सच का खुलासा’

जनरल वीके सिंह सोमवार को यहां राजस्थान विश्वविद्यालय के महाराजा कालेज छात्र संघ का उदघाटन करने आए थे। इस दौरान उन्होंने पत्रकारों से बातचीत में वेमुला आत्महत्या मामले में भी कई सवालों के जवाब दिए।

Author जयपुर | February 2, 2016 7:56 AM
विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह

विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह का कहना है कि हैदराबाद के दलित छात्र रोहित वेमुला के फेसबुक पेज को चेक करें तो सच सामने आ जाएगा। उनका कहना है कि वेमुला के आत्महत्या मामले में सच्चाई सामने लाने के लिए मूल कारणों में जाना चाहिए। वेमुला के फेसबुक पेज को चेक करने के बाद सारा मामला समझ में आ जाएगा।

जनरल वीके सिंह सोमवार को यहां राजस्थान विश्वविद्यालय के महाराजा कालेज छात्र संघ का उदघाटन करने आए थे। इस दौरान उन्होंने पत्रकारों से बातचीत में वेमुला आत्महत्या मामले में भी कई सवालों के जवाब दिए। उन्होंने इस मामले में प्रतिपक्षी दलों की तरफ से की जा रही राजनीतिक बयानबाजी पर नाराजगी भी जताई।

सिंह ने कहा कि जाति धर्म के मामलों में निचले स्तर की राजनीति नहीं होनी चाहिए। उन्होंने पड़ोसी देशों के संदर्भ में कहा, ‘हम दोस्त और साथियों को बदल सकते हैं पर पड़ोसी को नहीं। भारत कई बार पाक के साथ चल रहे विवादों को सुलझाने की पहल कर चुका है। भारत ने कई बार बातचीत का रास्ता अपनाया है पर पाक में सेना और आतंकवाद हावी है।’

सिंह ने हाल में देश के कई हिस्सों में बैलून मिलने के मामले में कहा कि किसी भी कार्रवाई को करने में समय लगता है। राडार की अपनी सीमाएं होती हैं। उन्होंने इस मामले में वायुसेना की कार्रवाई होने के कारण ज्यादा कुछ बोलने में अपनी असमर्थता भी जताई। सिंह ने राजनीति में आने के सवाल पर कहा कि राजनीति से बाहर रह कर इसे कोसना सही नहीं है। राजनीति को बदलने का वक्त आ गया है। लोगों के बीच रह कर उन्होंने जो लिया है, अब उसे लौटाने का समय आ गया है।

सिंह ने छात्र संघ के उद्घाटन समारोह में भी छात्रों को राष्ट्रवाद का पाठ पढ़ाया। उन्होंने कहा कि दुनिया में भारत को युवा राष्ट्र के तौर पर पहचाना जाता है। इसलिए देश का भविष्य उज्जवल है। उन्होंने कहा कि देश का युवा मजबूत बने और देशहित के काम में लगे यही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना है। उन्होंने प्रधानमंत्री के युवाओं के हित में किए जा रहे प्रयासों की सराहना करते हुए उसकी जानकारी भी छात्रों को दी। उन्होंने सेना में अपने अनुभवों को साझा करते हुए कहा कि वहां जाति और भेदभाव नहीं होता है। जवान के लिए देशहित ही सर्वोपरि होता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App