ताज़ा खबर
 

त्रिपुराः पशु चोरी के आरोप में भीड़ ने की तीन लोगों की हत्या, केस दर्ज पर गिरफ्तारी नहीं

सूत्रों का कहना है कि नमनजॉयपाड़ा के ग्रामीणों ने सुबह करीब साढ़े चार बजे पांच मवेशियों को ले जा रहे एक मिनी ट्रक को अगरतला की ओर जाते देखा। उन्होंने उसका पीछा किया और उत्तर महारानीपुर गांव के पास वाहन को रोक लिया।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।

त्रिपुरा के खोवई जिले में रविवार सुबह मवेशी चोरी करने के संदेह में तीन लोगों की भीड़ ने कथित तौर पर पीट-पीटकर हत्या कर दी। पुलिस ने बताया कि मामला दर्ज कर लिया गया है और जांच चल रही है। अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। पुलिस का कहना है कि मामले की विवेचना कर हत्या में शामिल लोगों की पहचान की जा रही है।

मृतकों की पहचान जायेद हुसैन (30), बिलाल मियां (28) और सैफुल इस्लाम (18) के रूप में की गई है और सभी सिपाहीजाला जिले के सोनमुरा उपमंडल के निवासी हैं। सूत्रों का कहना है कि नमनजॉयपाड़ा के ग्रामीणों ने सुबह करीब साढ़े चार बजे पांच मवेशियों को ले जा रहे एक मिनी ट्रक को अगरतला की ओर जाते देखा। उन्होंने उसका पीछा किया और उत्तर महारानीपुर गांव के पास वाहन को रोक लिया।

ग्रामीणों ने घातक हथियारों से मिनी ट्रक पर सवार तीन लोगों की पिटाई शुरू कर दी और उनमें से दो को भीड़ ने बुरी तरह पीटा जबकि तीसरा भाग गया। भीड़ ने उत्तर महारानीपुर के समीप आदिवासी इलाके मुंगियाकामी में तीसरे व्यक्ति को भी पकड़ लिया और वहां उसकी जमकर पिटाई की।

एसपी किरण कुमार ने बताया कि पुलिस फौरन दोनों स्थानों पर पहुंची। घायलों को पहले नजदीक के अस्पताल लेकर जाया गया। उन्हें फिर अगरतला सरकारी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। एसपी का कहना है कि गांव वालों को संदेह था कि ये लोग पशु तस्कर थे। इस बात की सूचना आसपास के इलाके में फैली तो काफी लोग जमा हो गए।

अधिकारी ने बताया कि भीड़ ने तैश में आकर दो लोगों की उत्तर महारानीपुर गांव के पास पिटाई की। एक व्यक्ति भागने में सफल हो गया था, लेकिन वो भी लोगों की पकड़ में आ गया। पिटाई से उसकी भी मौत हो गई। उनका कहना है कि मामले की विवेचना कर हत्या में शामिल लोगों की पहचान की जा रही है।

Next Stories
1 लक्षद्वीपः पटेल प्रशासन का प्रस्ताव-केरल के बजाए कर्नाटक HC करे कानूनी हितों की देखरेख
2 गाजियाबाद पर बोले आचार्य प्रमोद- 2022 के यूपी चुनाव को हिंदू-मुस्लिम करने के लिए ये बीजेपी का चक्रव्यूह, जो फंसेगा मारा जाएगा
3 मैं कोई शोपीस नहीं, पंजाब के लिए अमरिंदर उनके एजेंडे पर काम करें तो पीछे चलने को भी तैयार-बोले सिद्धू
ये पढ़ा क्या?
X