ताज़ा खबर
 

त्रिपुरा के सीएम बिप्लब देब के खिलाफ पत्नी ने लगाया घरेलू हिंसा का आरोप, कोर्ट में तलाक की अर्जी

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब की पत्नी नीती ने नई दिल्ली के तिज हजारी कोर्ट में तलाक के लिए उत्पीड़न और घरेलू हिंसा का आरोप लगाया है।

Author Updated: April 26, 2019 3:59 PM
त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब पर तिज हजारी कोर्ट में मामला दर्ज़। (pc- indian express)

Biplab Deb has been accused of domestic violence:  अक्सर अपने बयानों के चलते सुर्ख़ियों में रहने वाले त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब एक बार फिर विवादों में आ गए हैं। इस बार उन्होंने कोई बयान नहीं दिया है बल्कि उनपर घरेलु हिंसा का केस हुआ है। बिप्लब देब पर उनकी पत्नी ने घरेलू हिंसा का आरोप लगाया है। CNN-News18 की रिपोर्ट के मुताबिक सीएम की पत्नी नीती ने नई दिल्ली के तिज हजारी कोर्ट में तलाक के लिए उत्पीड़न और घरेलू हिंसा का आरोप लगाया है।

बात दें देब ने 2018 में त्रिपुरा के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी। इसके बाद से वे लगातार विवादास्पद देते रहे हैं। बिप्लब तब सुर्ख़ियों में आ गए थे जब उन्होंने कहा था कि भारत में सैटलाइट कम्यूनिकेशन और इंटरनेट महाभारत के समय से है। इतना ही नहीं उन्होंने ये भी कहा था कि सिविल सर्विस कि परीक्षा सिर्फ सिविल इंजीनियर को देनी चाहिए। एक बार उन्होंने ऑक्सिजन पर ‘ज्ञान’ दिया था। बिप्लब ने कहा कि जल निकायों पर बतखों के तैरने से पानी में ऑक्सिजन लेवल अपने आप बढ़ जाता है। बिप्लब ने यह भी कहा कि बतखें जब तैरती हैं तो वह पानी को रिसाइकल करती जाती हैं।

उन्होंने कहा था “त्रिपुरा सरकार जल निकायों के नजदीक रहने वाले ग्रामीणों को 50 हजार छोटी बतखें देने की योजना पर विचार कर रही है।” बिप्लब ने इस पर जोर दिया कि पर्यावरण को बचाने के लिए प्रत्येक परिवार को बतखपालन करना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 रिपोर्ट: PM नरेंद्र मोदी का वादा 2022 तक हर नागरिक को घर, पर तय वक्त से काफी पीछे है निर्माण कार्य
2 PNB घोटालाः भगोड़े नीरव मोदी को बड़ा झटका, तीसरी बार कोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका; 24 मई तक रहेगा जेल में
3 सुप्रीम कोर्ट का RBI को निर्देश, RTI के तहत बैंकों के निरीक्षण से जुड़ी सूचनाएं उपलब्ध करवाएं