ताज़ा खबर
 

बिप्लब देब की पत्नी ने लिखा फेसबुक पोस्ट, घरेलू हिंसा की खबरों को बताया अफवाह

नीति ने एक अन्य पोस्ट के जरिए कहा, "मेरा प्यार बगैर किसी शर्त के है और सच्चा है। अब मुझे किसी प्रकार की सफाई देने की जरूरत नहीं है।"

पत्नी नीति के साथ त्रिपुरा के सीएम बिप्लब देव। (फोटोः FB/niti.deb1)

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब की पत्नी नीति देब ने फेसबुक पोस्ट लिखकर साफ किया है कि उन्होंने न तो पति से तलाक मांगा है, न ही उन पर घरेलू हिंसा के आरोप लगाए हैं। मीडिया के कुछ धड़े में आई ऐसी खबरों को सिरे से खारिज करते हुए अफवाह करार दिया।

नीति ने लिखा, “अफवाहों का कोई मुंह नहीं होता। सिर्फ गंदे, भद्दे और बीमार किस्म की मानसिकता वाले दिमाग ही घटिया प्रचार के लिए इस तरह की चीजें (अफवाहें) फैलाते हैं।” उन्होंने इसके अलावा आरोप लगाया कि प्रभावशाली लोगों के खिलाफ राजनीतिक लाभ पाने के लिए जो लोग अफवाहें फैला रहे हैं, उन्हें इस काम के लिए पैसे दिए गए हैं।

उनके मुताबिक, “अगर आप सब सच में मुझे चाहते हैं और मुझ पर यकीन करते हैं, तब कृपया इन लोगों (अफवाह फैलाने वालों) का बहिष्कार करें और उन्हें सबक सिखाएं। मैं किसी की बऊदी (भाभी), बहू, मां, बहन और पत्नी हूं, जो आपके राज्य से ताल्लुक रखती हूं। वे न केवल मेरी छवि खराब करने की कोशिश कर रहे हैं, बल्कि त्रिपुरावासियों से मुझे मिले प्रेम, लगाव और इज्जत का भी अपमान कर रहे हैं।”

नीति ने एक अन्य पोस्ट के जरिए कहा, “मेरा प्यार बगैर किसी शर्त के है और सच्चा है। अब मुझे किसी प्रकार की सफाई देने की जरूरत नहीं है।” हालांकि, अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है कि यह नीति का आधिकारिक अकाउंट है या नहीं। बता दें कि बिप्लब पिछले साल ही त्रिपुरा के सीएम बने थे। वह अपने अनोखे बयानों के लिए जाने जाते हैं।

दरअसल, शुक्रवार को अचानक से खबर आई कि नीति ने पति पर घरेलू हिंसा के आरोप लगाते हुए तलाक की मांग की है। कुछ मीडिया चैनलों और वेबसाइट्स पर यह खबर दिखाई गई, जिसके बाद नीति का पोस्ट आया। उन्होंने कहा है कि लोगों को ऐसी अफवाहों पर ध्यान नहीं देना चाहिए।

FB यूजर ने फैलाई अफवाह, केस: रिपोर्ट्स की मानें तो यह अफवाह एक फेसबुक यूजर ने ही फैलाई थी, जिसके खिलाफ केस भी दर्ज कर लिया गया है। आरोप है कि अनुपम पॉल नाम के शख्स ने अफवाह फैलाई कि सीएम की पत्नी ने उनसे तलाक के लिए अर्जी दाखिल की है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App