ताज़ा खबर
 

संसद परिसर में धुम्रपान पर लगा टोटल बैन, रोज बड़ी तादाद में निकल रहा था सिगरेट-बीड़ी का कचरा

लोकसभा सचिवालय ने अब एक सर्कुलर जारी कर स्टाफ और अधिकारियों को नए आदेश दिए हैं।

संसद भवन। (Photo: Indian Express)

लोकसभा सचिवालय ने अब एक नया सर्कुलर जारी कर स्टाफ और अधिकारियों को नए आदेश दिए हैं। नया सर्कुल संसद परिसर में धुम्रपान को लेकर जारी किया गया है। इसके तहत अब संसद परिसर में धुम्रपान करने पर कड़ी पाबंदी लगा दी गई है। स्टाफ और अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि परिसर में धुम्रपान न करें। अगर ऐसा करते हुए वह पाए जाते हैं तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। लोकसभा सचिवालय ने कहा है कि संसद परिसर में धुम्रपान करना न सिर्फ सरकारी नियमों का उल्लंघन है बल्कि इनकी वजह से भीषण आग भी लग सकती है। बता दें रोज सफाई के दौरान संसद परिसर से बड़ी तादाद में सिगरेट और बीड़ी के बचे हुए हिस्सों का खचरा निकाला जाता था। इसी से परेशान होकर लोकसभा सचिवालय ने संसद परिसर में धुम्रपान पर पूरा बैन लगा दिया है।

बता दें सचिवालय ने इससे पहले भी बीते शीतकालीन सत्र के दौरान पत्रकारों-मीडियाकर्मियों के लिए दिशा-निर्देश जारी किए थे। उन निर्देशों के मुताबिक संसद परिसर में सिर्फ और सिर्फ मंत्रियों और सांसदों के इंटरव्यू-फोटोग्राफ लेने की बात कही गई थी। सचिवालय ने मीडियाकर्मियों के लिए दिशा-निर्देश में कहा था कि संसद परिसर में अगर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल या पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जैसी हस्तियां दिखती हैं तो आप न तो उनसे हाय-हेलो करेंगे और न ही उनसे बातचीत करेंगे या फिर फोटो खींचेंगे।

ऐसा करते हुए पाए जाने पर लोकसभा सचिवालय ने आरोपी मीडिया कर्मी को दो दिनों के लिए संसदीय रिपोर्टिंग से सस्पेंड करने के आदेश दिए गए थे। लोकसभा सचिवालय के प्रेस और पब्लिक रिलेशन्स विंग ने मीडियाकर्मियों को जारी दिशा निर्देश में बड़े पैमाने पर क्या करें और क्या न करें की सूची सौंपी थी। वहीं गाइडलाइंस में यह भी कहा गया था कि मंत्रियों और सांसदों का इंटरव्यू लेने से पहले मीडियाकर्मियों को उनसे पहले से ही मिलने का समय लेना होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App