scorecardresearch

Today Weather Forecast 7 July 2022: महाराष्ट्र, कर्नाटक समेत देश के कई राज्यों में तेज बारिश, पहाड़ी इलाकों में भूस्खलन और बादल फटने से भारी नुकसान

Weather Forecast Today (Thursday) 7 July,Weather News Update Today: मौसम विभाग ने गुरुवार को महाराष्ट्र के रायगढ़, रत्नागिरी, पुणे और कोल्हापुर सहित कुछ हिस्सों में रेड अलर्ट जारी किया। इस बीच ठाणे और मुंबई 10 जुलाई तक ऑरेंज अलर्ट पर हैं।

Weather Update,imd alert,gujarat weather,mumbai rain
आज का मौसम अपडेट,Weather Forecast: मुंबई में तेज बारिश के बीच सड़कों से गुजरते वाहन। (फोटो- पीटीआई)

Weather Forecast News Update on 7th July: मानसून के तेजी पकड़ने के साथ ही देश के कई इलाकों में जोरदार बारिश हो रही है। इसकी वजह से कई जगह जलजमाव होने और नदियों के बढ़ने से आम लोगों की जिंदगी पर प्रभाव पड़ा है। कई शहरों में आवागमन भी प्रभावित हुआ है। महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल, असम समेत कई राज्यों में मूसलाधार बारिश हो रही है। हालांकि राजधानी दिल्ली में अभी बारिश की स्थिति सामान्य ही है।मौसम विभाग (IMD) के पूर्वानुमान के अनुसार, गुरुवार को दिल्ली में हल्की बारिश की संभावना है। अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है। उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश लगातार बारिश होने से लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

उधर, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि राज्य के विशाल इलाकों में भारी बारिश की भविष्यवाणी की गई है। राज्य के अधिकारियों ने सभी आवश्यक सावधानी बरती है। उन्होंने एएनआई को बताया, “एनडीआरएफ और एसडीआरएफ को कोडागु, कारवार और उडुपी में तैनात किया गया है।” उडुपी और कोडागु समेत कई जिलों में स्कूल और कॉलेज बंद कर दिए गए हैं।

उनके कार्यालय ने एक बयान में कहा कि मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने अधिकारियों को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का सर्वेक्षण करने का निर्देश दिया है ताकि यह आकलन किया जा सके कि प्रभावित क्षेत्रों के निवासियों को अस्थायी या स्थायी रूप से स्थानांतरित करने की आवश्यकता है या नहीं।

उन्होंने कहा, “2009 में बड़े पैमाने पर बाढ़ के कहर के बाद 60 गांवों को स्थायी रूप से स्थानांतरित कर दिया गया था, लेकिन बाढ़ का पानी कम होने के बाद लोग अपने पुराने आवासों में लौट आए। हम नदी के किनारे और निचले इलाकों के साथ उच्च स्थानों में अच्छी तरह से सुसज्जित पुनर्वास केंद्र बनाने के विकल्प पर विचार कर रहे हैं। ताकि बाढ़ से प्रभावित होने पर लोगों को वहां स्थानांतरित किया जा सके।”

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में भारी बारिश से सड़क पर भरा पानी और गुजरते वाहन। (पीटीआई)

उपायुक्त डॉ. राजेंद्र के वी ने एएनआई को बताया कि दक्षिण कन्नड़ जिले के बंतवाल के पंजिकल गांव में हुए भूस्खलन में तीन लोगों की मौत हो गई और एक गंभीर रूप से घायल हो गया। डॉ. राजेंद्र ने कहा, “तीन लोगों को बचा लिया गया है, जिनमें से एक की हालत गंभीर है और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।”

मौसम विभाग ने गुरुवार को महाराष्ट्र के रायगढ़, रत्नागिरी, पुणे और कोल्हापुर सहित कुछ हिस्सों में रेड अलर्ट जारी किया। इस बीच ठाणे और मुंबई 10 जुलाई तक ऑरेंज अलर्ट पर हैं।

मुंबई में भारी बारिश की वजह से सड़कों पर तालाब जैसा माहौल हो गया। रेलवे लाइनों पर भी पानी भर गया। तेज बारिश और जलजमाव के बीच घर जातीं छात्राएं और गुजरती लोकल ट्रेन। (PTI)

महाराष्ट्र के ठाणे जिले में रात भर हुई भारी बारिश के कारण कई स्थानों पर बाढ़ आ गई है। गुरुवार सुबह शहर में मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के आवास के आसपास जलजमाव हो गया। ठाणे नगर निगम के क्षेत्रीय आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ के प्रमुख अविनाश सावंत ने कहा कि स्थानीय दमकलकर्मियों को गुरुवार सुबह करीब 6.15 बजे शहर के लुइसवाड़ी इलाके में सीएम आवास के पास बाढ़ की सूचना मिली। उन्होंने कहा कि सिविल कर्मचारी मौके पर पहुंचे और इलाके को बाढ़ के पानी से मुक्त कराया। उन्होंने कहा कि जिले में कुछ स्थानों पर पेड़ गिरने की भी खबर है।

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में बादल फटने के बाद भारी नुकसान हुआ। सड़क पर खड़ी गाड़ियों पर पहाड़ से पत्थरों के बड़े-बड़े टुकड़े गिर पड़े। (पीटीआई)

उत्तराखंड में बीती रात भारी बारिश के कारण चमोली जिले में चमोली-कुंड (केदारनाथ) राजमार्ग पर मलबा आने से जाम लग गया। जिला सूचना अधिकारी ने बताया कि बारिश के कारण जिले में 33 सड़कें अभी भी अवरुद्ध हैं। सड़कें साफ की जा रही हैं।

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में भारी बारिश के बाद उफानाई पार्वती नदी और मलाणा के पास भूस्खलन के बाद अवरुद्ध सड़क के पास खड़ा एक व्यक्ति। (पीटीआई फोटो)

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में बुधवार को बादल फटने से बाढ़ जैसी स्थिति बन गई। कई गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया है. इससे लोगों के घर तबाह हो गए. साथ ही मणिकर्ण में कई टूरिस्ट कैंपों में काफी नुकसान हुआ है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X