scorecardresearch

आज सिर्फ 6 राज्यों में हुआ टीकाकरण, 17 हजार लोगों को ही लगी वैक्सीन, एक दिन पहले 2 लाख से ज्यादा ने लिया था लाभ

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि अब तक कुल 2,24,301 लाभार्थियों को कोविड-19 का टीका लगाया गया है। इनमें से सिर्फ 447 लोगों पर ही इसके प्रतिकूल प्रभाव पड़ने के मामले सामने आए हैं।

आज सिर्फ 6 राज्यों में हुआ टीकाकरण, 17 हजार लोगों को ही लगी वैक्सीन, एक दिन पहले 2 लाख से ज्यादा ने लिया था लाभ
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (Express photo by Amit Chakravarty)

भारत में राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के दूसरे दिन रविवार को सिर्फ 6 राज्यों में टीकाकरण किया जा सका। इस दौरान 17,072 लोगों को टीके की खुराक दी गई है। हालांकि इस अभियान के पहले दिन यानी शनिवार को 2,07,229 लोगों का टीकाकरण किया गया। माममे में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि अब तक कुल 2,24,301 लाभार्थियों को कोविड-19 का टीका लगाया गया है। इनमें से सिर्फ 447 लोगों पर ही इसके प्रतिकूल प्रभाव पड़ने के मामले सामने आए हैं।

मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव मनोहर अगनानी ने कहा कि इन 447 मामलों में सिर्फ तीन में टीका लगवाने वाले व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत पड़ी है। उन्होंने कहा, ‘आज रविवार होने के चलते, सिर्फ छह राज्यों ने कोरोना वायरस टीकाकरण अभियान चलाया और 553 सत्रों में कुल 17,072 लाभार्थियों को टीका लगाया गया।’

उन्होंने बताया कि रविवार को जिन छह राज्यों ने टीकाकरण अभियान चलाया उनमें आंध्र प्रदेश, अरूणाचल प्रदेश, कर्नाटक, केरल और मणिपुर तथा तमिलनाडु शामिल हैं। उन्होंने बताया कि 17 जनवरी तक कुल 2,24,301 लाभार्थियों को टीका लगाया गया है। इनमें से 2,07,229 लोगों को टीकाकरण अभियान के पहले दिन (शनिवार को) टीका लगाया गया था।

उन्होंने कहा, ’16 और 17 जनवरी को (टीका लगाने पर) प्रतिकूल प्रभाव के कुल 447 मामले सामने आएं, जिनमें से तीन मामलों में अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत पड़ी। अब तक ज्यादातर मामलों में बुखार, सिरदर्द, उल्टी जैसी स्वास्थ्य संबंधी मामूली समस्याएं देखने को मिली हैं।’ उन्होंने कहा कि अभियान की प्रगति की समीक्षा के लिए, अड़चनों का पता लगाने और सुधारात्मक कार्य की योजना बनाने को लेकर सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के साथ रविवार को एक बैठक की गई।

भारत में दो टीकों के आपात उपयोग की मंजूरी दी गई है, जिनमें एक टीका भारत बायोटेक द्वारा विकसित कोवैक्सीन है, जबकि दूसरा टीका, कोविशील्ड, ऑक्सफोर्ड/सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने बनाया है। (एजेंसी इनपुट)

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट