ताज़ा खबर
 

आज सिर्फ 6 राज्यों में हुआ टीकाकरण, 17 हजार लोगों को ही लगी वैक्सीन, एक दिन पहले 2 लाख से ज्यादा ने लिया था लाभ

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि अब तक कुल 2,24,301 लाभार्थियों को कोविड-19 का टीका लगाया गया है। इनमें से सिर्फ 447 लोगों पर ही इसके प्रतिकूल प्रभाव पड़ने के मामले सामने आए हैं।

covid-19 vaccine national newsतस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (Express photo by Amit Chakravarty)

भारत में राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के दूसरे दिन रविवार को सिर्फ 6 राज्यों में टीकाकरण किया जा सका। इस दौरान 17,072 लोगों को टीके की खुराक दी गई है। हालांकि इस अभियान के पहले दिन यानी शनिवार को 2,07,229 लोगों का टीकाकरण किया गया। माममे में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि अब तक कुल 2,24,301 लाभार्थियों को कोविड-19 का टीका लगाया गया है। इनमें से सिर्फ 447 लोगों पर ही इसके प्रतिकूल प्रभाव पड़ने के मामले सामने आए हैं।

मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव मनोहर अगनानी ने कहा कि इन 447 मामलों में सिर्फ तीन में टीका लगवाने वाले व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत पड़ी है। उन्होंने कहा, ‘आज रविवार होने के चलते, सिर्फ छह राज्यों ने कोरोना वायरस टीकाकरण अभियान चलाया और 553 सत्रों में कुल 17,072 लाभार्थियों को टीका लगाया गया।’

उन्होंने बताया कि रविवार को जिन छह राज्यों ने टीकाकरण अभियान चलाया उनमें आंध्र प्रदेश, अरूणाचल प्रदेश, कर्नाटक, केरल और मणिपुर तथा तमिलनाडु शामिल हैं। उन्होंने बताया कि 17 जनवरी तक कुल 2,24,301 लाभार्थियों को टीका लगाया गया है। इनमें से 2,07,229 लोगों को टीकाकरण अभियान के पहले दिन (शनिवार को) टीका लगाया गया था।

उन्होंने कहा, ’16 और 17 जनवरी को (टीका लगाने पर) प्रतिकूल प्रभाव के कुल 447 मामले सामने आएं, जिनमें से तीन मामलों में अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत पड़ी। अब तक ज्यादातर मामलों में बुखार, सिरदर्द, उल्टी जैसी स्वास्थ्य संबंधी मामूली समस्याएं देखने को मिली हैं।’ उन्होंने कहा कि अभियान की प्रगति की समीक्षा के लिए, अड़चनों का पता लगाने और सुधारात्मक कार्य की योजना बनाने को लेकर सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के साथ रविवार को एक बैठक की गई।

भारत में दो टीकों के आपात उपयोग की मंजूरी दी गई है, जिनमें एक टीका भारत बायोटेक द्वारा विकसित कोवैक्सीन है, जबकि दूसरा टीका, कोविशील्ड, ऑक्सफोर्ड/सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने बनाया है। (एजेंसी इनपुट)

Next Stories
1 किसान आंदोलन समर्थकों के खिलाफ केस दर्ज कर रही NIA, राकेश टिकैत बोले- जिसने 40KG आटा दिया उसकी भी पेशी होगी
2 सही आकड़ें नहीं दिखा रही सरकार! चालू वित्त वर्ष में देश की अर्थव्यवस्था में 25% गिरावट का अनुमान- मशहूर अर्थशास्त्री अरुण कुमार बोले
3 हम तो बीज खेत में डाल कर चार-छह महीने इंतजार करते हैं- किसान आंदोलन का हल नहीं निकलने पर बोले राकेश टिकैत
ये पढ़ा क्या?
X