ताज़ा खबर
 

सोशल मीडिया के बिगड़ैलों को सबक सिखाएंगी बरखा दत्त, राणा अय्यूब और गुरमेहर कौर, कहा- हम चुप बैठने वालों में से नहीं हैं

सोशल मीडिया पर ट्रोलिंग का शिकार जानी मानी शख्सियतें तो हुई ही हैं, कई बार सामान्य यूजर्स को भी लोग गालियां और अपशब्द देने लगते हैं।

Trolling, Social media Trolling, Social media abuse, Barkha Dutt, Rana Ayyub, Gurmehar Kaur, Trolls, #LetsTalkAboutTrolls, Campaign against trolling, Campaign against trolls, Online trolling, Online trolls(बाएं से दाएं) राणा अय्यूब, गुरमेहर कौर और बरखा दत्त।

सोशल मीडिया पर ट्रोलिंग पर तीन शख्सियतें एक प्लेटफॉर्म पर आ गई हैं। इन लोगों ने सोशल मीडिया पर गालियां देने, अपशब्दों का इस्तेमाल करने वाले लोगों के खिलाफ मुहिम चलाने का फैसला किया है। ये तीन शख्सियतें हैं जानी मानी पत्रकार बरखा दत्त, खोजी पत्रकार राणा अय्यूब, और दिल्ली के रामजस कॉलेज विवाद से चर्चा में आई छात्रा गुरमेहर कौर। सोशल मीडिया पर ट्रोलिंग का शिकार जानी मानी शख्सियतें तो हुई ही हैं, कई बार सामान्य यूजर्स को भी लोग गालियां और अपशब्द देने लगते हैं। ऐसे लोग जब भी आपके विचारों से सहमत नहीं होते हैं वे निजी जिंदगी के बारे में अमर्यादित टिप्पणियां करने लगते हैं।

बता दें कि भारत-पाकिस्तान के बीच युद्ध का विरोध करने वाली गुरमेहर कौर को कुछ बेहूदा किस्म के लोगों ने रेप तक की धमकियां दे डाली थी। इसी तरह बरखा दत्त और राणा अय्यूब को भी सत्ता के खिलाफ बोलने या लिखने पर लोगों ने उनके खिलाफ अपशब्दों का इस्तेमाल किया। अब अंग्रेजी अखबार हिन्दुस्तान टाइम्स ने ऐसे लोगों के खिलाफ एक मुहिम #LetsTalkAboutTrolls शुरू किया है। इस वीडियो में गुरमेहर कौर कहती है कि छात्रों के द्वारा छात्रों के लिए हिंसा के खिलाफ एक अभियान शुरू किया गया, लेकिन तुरंत ही लोगों मेरे और मेरे परिवार के खिलाफ बोलना शुरू कर दिया। गुरमेहर कहती हैं कि मेरे पापा ने बॉर्डर पर वास्तव में गोलियां खाई हैं, मैं इनको तो जवाब दे ही सकती हूं।

वीडियो में बरखा दत्त कहती है कि लोग सोशल मीडिया पर गंदी गंदी गालियां देते हैं, लेकिन मैं उन्हें कहना चाहती हूं कि मैं कभी ट्वीटर नहीं छोड़ूंगी, मैं इन ऑनलाइन मॉब को ये संतुष्टि कभी नहीं दूंगी कि उन्होंने मेरी आवाज़ बंद कर दी। इस वीडियो ये तीनों महिलाएं लोगों को ऑनलाइन बुलिंग के खिलाफ लोगों को आगे आने की सलाह दी हैं। पत्रकार राणा अय्यूब कहती हैं कि सोशल मीडिया पर ट्रोल करने वालों की पूरी की पूरी फौज खड़ी है, मैं दो रातों तो ट्रोल होती रही और लोग मुझे गालियां देते रहे। ऑनलाइन गुंडागर्दी के खिलाफ आवाज उठाने वाली इन शख्सियतों का कहना है कि अगर ये चुप हो गईं तो ये दुनिया महिलाओं के साथ अन्नाय होगा। इसलिए इस मुहिम में सभी को साथ आना चाहिए।

देखिए संबंधित वीडियो

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मिलिए कश्‍मीर में बदसलूकी के शिकार हुए सीआरपीएफ जवान से, चार महीने से लगातार कर रहा था चुनाव ड्यूटी
2 अरनब गोस्वामी का दावा- एक मीडिया हाउस ने दी धमकी, नेशन वांट्स टु नो बोला तो करवा दूंगा गिरफ्तार
3 वीडियो: मगरमच्छ ने जल में रहकर ले लिया हाथी के बच्चे से बैर, देखिए क्या हुआ नतीजा
IPL 2020
X