ताज़ा खबर
 

TMC सांसद डेरेक ओ ब्रायन का PM मोदी पर तंज, कहा- इतिहास नहीं, जिन्ना की कब्र पर स्वर्ण अक्षरों में लिखा जाएगा CAB

Citizenship Amendment Bill: टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि पीएम ने बोला है कि यह बिल सुनहरे अक्षरों में लिखा जाएगा। मैं आपको बताऊंगा कि यह कहां लिखा जाएगा। यह जिन्ना के कब्र पर लिखा जाएगा।

Author नई दिल्ली | Updated: December 11, 2019 7:47 PM
Citizenship Bill in Rajya sabhaटीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन।

Citizenship Amendment Bill: तृणमूल कांग्रेस के सदस्य डेरेक ओ ब्रायन ने राज्यसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक का भारी विरोध करते हुए कहा कि यह भारत और बंगाल विरोधी है। हम इस बिल का समर्थन नहीं करते है। उन्होंने कहा कि बंगालियों को राष्ट्रभक्ति सिखाने की जरूरत नहीं है। अंडमान की जेलों में बंद कैदियों में 70 प्रतिशत बंगाली थे। साथ ही उन्होंने पीएम पर तंज कसते हुए कहा कि यह बिल जिन्ना की कब्र पर करांची में लिखा जाएगा।

इस मामले को उच्चतम न्यायालय में उठाएगें: डेरेक ने बंगाल के कई स्वतंत्रता सेनानियों का जिक्र करते हुए कहा कि अंग्रेज भी भारतीय लोगों की मनोस्थिति को नहीं तोड़ पाए। उन्होंने कहा कि आज कुछ लोग बंगाल के हितैषी बन रहे हैं। उन्होंने विधेयक का विरोध करते हुए कहा कि इसके खिलाफ आंदोलन किया जाएगा और यह मामला उच्चतम न्यायालय में भी जाएगा।

Hindi News Today, 11 December 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

सरकार नाजियों की तरह कदम उठा रही’: विधेयक पर चर्चा के दौरान ब्रायन ने आरोप लगाते हुए कहा कि यह सरकार नाजियों की तरह कदम उठा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार देश के नागरिकों को आश्वासन देने के लिहाज से काफी अच्छी है लेकिन अपने वादों को तोड़ने के लिहाज से और भी ज्यादा अच्छी है। उन्होंने जर्मनी के यातना केंद्रों की तुलना हिरासत केंद्रों से की और एनआरसी का संदर्भ देते हुए कहा कि शिविरों में बंद 60 प्रतिशत लोग बांग्लाभाषी हिन्दू हैं।

भाषा के अधार पर हुआ था उत्पीड़न:  तृणमूल सदस्य डेरेक ने कहा कि हम तानाशाही की तरफ देख रहे हैं और 84-85 साल पहले जर्मनी में जिस प्रकार के कानून और कदम उठाए गए, वैसे ही कदम यहां उठाए जा रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि पूर्वी पाकिस्तान में 1970 के दशक में धर्म के आधार पर नहीं, बल्कि भाषा के आधार पर उत्पीड़न किया गया था। उन्होंने कहा कि वहां से आए कई लोगों के दस्तावेज अब नहीं हैं, ऐसे में वे कैसे अपने दस्तावेज दिखा सकते हैं।

दो करोड़ लोगों ने नौकरियां गंवा दी: उन्होंने आगे कहा कि इस सरकार के कार्यकाल में दो करोड़ लोगों ने अपनी नौकरियां गंवा दी। उन्होंने कहा कि जो लोग यहां हैं, सरकार उनका भी ठीक से ख्याल नहीं रख पा रही है तो आने वाले लोगों का कैसे रखेगी।

 

पीएम मोदी को दिया जवाब: बता दें कि पीएम मोदी ने नागरिता संशोधन बिल के बारे बोलते हुए कहा था कि यह बिल इतिहास के स्वर्णिम अक्षरों में लिखा जाएगा। इस पर जवाब देते हुए टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा, ‘पीएम ने बोला है कि यह बिल सुनहरे अक्षरों में लिखा जाएगा। मैं आपको बताऊंगा कि यह कहां लिखा जाएगा, यह राष्ट्र पिता की कब्र पर लिखा जाएगा और वह भी जिन्ना की कब्र पर करांची में लिखा जाएगा।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 CAB को लेकर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिर्विसटी में जमकर प्रदर्शन, कैंपस में RAF तैनात; धारा 144 तोड़ने वाले छात्र नेताओं पर एक्शन
2 CAB पर उद्धव ठाकरे को कांग्रेस ने दिया अल्टीमेटम तो शिवसेना को लेना पड़ा यू-टर्न, जानें- महाविकास अघाड़ी की इनसाइड स्टोरी
3 ममता बनर्जी और धनखड़ का टकराव बढ़ा! बंगाल सरकार ने यूनिवर्सिटी चांसलर के तौर पर घटाई गवर्नर की ताकत
ये पढ़ा क्या?
X