TMC सांसद ने फिर कसा ‘चाट-पापड़ी’ का तंज, बोले- हर 10 मिनट में ‘थोप दिया गया’ एक बिल

TMC सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने गुरुवार को एक बार फिर पीएम मोदी पर अपनी ‘पापड़ी चाट’ वाली टिप्पणी दोहराते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने आठ दिनों में 22 बिलों को थोप दिया।

TMC, Derek O'Brien
तृणमूल कांग्रेस के नेता डेरेक ओ ब्रायन ने मंगलवार को घर पर चाट-पापड़ी की पार्टी की। (फोटो- PTI)

TMC सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने गुरुवार को एक बार फिर पीएम मोदी पर अपनी ‘पापड़ी चाट’ वाली टिप्पणी दोहराते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने आठ दिनों में 22 बिलों को थोप दिया। डेरेक ओ ब्रायन ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा कि मानसून सत्र के पहले सप्ताह में कोई विधेयक पारित नहीं हुआ। फिर मोदी-शाह ने 8 दिनों में 22 बिलों को थोप दिया। सरकार को प्रति बिल औसत समय 10 मिनट से भी कम लगा। उन्होंने आगे लिखा मोदी जी, इन नए नंबरों को चुनौती दें क्योंकि मैं पापड़ी चाट की एक और प्लेट का आनंद ले रहा हूं।

इसके साथ ही डेरेक ने उन बिलों की लिस्ट भी जारी की, इस लिस्ट में यह भी बताया गय़ा था कि कौन सा बिल कितने मिनट में पास हुआ। बताते चलें कि टीएमसी सांसद ने इससे पहले भी पापड़ी चाट को लेकर मोदी सरकार पर तंज कसते हुए कहा था कि इस सत्र के पहले 12 दिन में मोदी-शाह ने 12 बिल पारित कराए। प्रत्येक बिल को संसद में औसतन सात मिनट मिले। विधेयक पारित कर रहे हैं या पापड़ी चाट बना रहे हैं।

टीएमसी सांसद की टिप्पणी पर पीएम मोदी की नाराजगी भी सामने आई थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीजेपी संसदीय दल की बैठक में हिस्सा लिया था। केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने बताया कि पीएम ने डेरेक के चाट पापड़ी बयान को आपत्तिजनक बताया था।

मानसून सत्र के दौरान सरकार और विपक्ष आमने सामने है। जहां एक तरफ विपक्ष पेगासस, किसान आंदोलन, महंगाई, बेरोजगारी और कोविड वैक्सीन की कमी को लेकर सरकार का घेराव कर रहा है तो वहीं केंद्र भी विपक्ष पर आक्रामक होने की कोशिश में जुटा हुआ है। बुधवार को तो सदन में तनाव भर स्थिति देखने को मिली, जब निलंबित सांसदों के प्रदर्शन के दौरान राज्यसभा में कांट टूट गया और एक महिला सुरक्षा कर्मी घायल भी हो गई।

आपकी जानरारी के लिए बता दें कि संसद का मानसून सत्र 19 जुलाई से शुरू हुआ था, विपक्ष के हंगामे के चलते सरकार इसे समय से पहले खत्म करने की तैयारी में है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट