ताज़ा खबर
 

कानून मंत्री से भिड़ीं एंकर- लीगल बात कीजिए, चंदा कहां से आता है? RTI में बताइए, मंत्री बोले- चैनल की फंडिंग कहां से होती है?

एक टीवी चैनल पर बातचीत के दौरान टीवी एंकर केंद्रीय कानून मंत्री से भिड़ गई और कहा कि लीगल बात कीजिए आरटीआई में चंदा कहां से आता है।

Author नई दिल्ली | Updated: November 17, 2019 7:55 PM
केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद। (फाइल फोटो)

हाल में सर्वोच्च न्यायालय ने अपने फैसले में माना कि सीजेआई का कार्यालय एक ‘पब्लिक अथॉरिटी’ है और भारत के मुख्य न्यायाधीश (CJI) का कार्यालय ‘सूचना के अधिकार’ (RTI) के दायरे में आएगा। दिल्ली हाई कोर्ट के फैसले को बरकार रखते हुए सर्वोच्च अदालत ने कहा, “पारदर्शिता न्यायिक स्वतंत्रता को कमजोर नहीं करती है।” हालांकि, अदालत ने इस दौरान यह भी कहा कि इसकी गोपनीयता बरकरार रहेगा। यह फैसला चीफ जस्टिस समेत पांच जजों की संविधान पीठ ने दिया है। इस पीठ में जस्टिस एनवी रमना, जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़, जस्टिस संजीव खन्ना और जस्टिस दीपक गुप्ता शामिल हैं।

इस फैसले के बाद से राजनीतिक पार्टियों को भी सूचना के अधिकार के दायरे में आने की बहस एक बार फिर से तेज हो गई है। इस कड़ी में एक टीवी चैनल पर बातचीत के दौरान टीवी एंकर केंद्रीय कानून मंत्री से भिड़ गई और कहा कि लीगल बात कीजिए आरटीआई में चंदा कहां से आता है। इस पर मंत्री ने जवाब देते हुए कहा कि ये बताइए चैनल की फंडिंग कहां से होती है।

दरअसल, एंकर ने कहा कि आरटीआई का मुद्दा साधारण मुद्दा है लोगों ने अपने लिए जिस सरकार का चुनाव किया है। उन्हें उस सरकार के बारे में जानने का हक है कि पार्टी के पास से फंड कहां से आ रहा है। इस पर कानून मंत्री रविशंकर ने कहा कि आप अपने बारे में सारी जानकारी सार्वजनिक नहीं कर सकते हैं। इस पर एंकर ने कहा कि  मैं निजी जानकारी की बात नहीं कर रही हूं। मैं राजनीतिक पार्टी की बात कर रही हूं। आप पैसे का मामला नहीं शेयर करना चाहते मोटी बात तो यही है। इस पर रविशंकर प्रसाद ने कहा कि हो सकता है एक दिन ऐसा आएगा कि लोग जानना चाहेंगे कि  न्यूज चैनल्स के पास कहां से फैसा आता है। इस पर एंकर ने कहा  कि लीगल बात कीजिए आप कानून मंत्री हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 जम्मू कश्मीर में IED धमाके में सेना का जवान शहीद, सेना के ट्रक को बनाया गया निशाना
2 लोकसभा चुनाव के बाद से तीन सहयोगी छोड़ चुके हैं बीजेपी का साथ! जानें- अब किसकी हो सकती है बारी और क्यों?
3 जमीन पर पड़े किसान को पीटता रहा पुलिस वाला, वीडियो शेयर कर बोले कांग्रेसी आचार्य “साधु” की सरकार है या “शैतान” की?
जस्‍ट नाउ
X