ताज़ा खबर
 

खुफिया विभाग को शक- 26 जनवरी को 9/11 जैसा हमला कर सकता है लश्कर, दिल्ली की इमारतों पर लगाई गईं एंटी एयरक्राफ्ट गन

दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सुबह 10:35 से लेकर 12:15 तक कोई विमान लैंड या टेक अॉफ नहीं कर पाएगा।

Author January 25, 2017 4:38 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर (पीटीआई फोटो)

खुफिया रिपोर्ट्स में अलर्ट जारी कर कहा गया है कि आतंकी संगठन लश्कर ए तैबा 26 जनवरी को किसी चार्टर फ्लाइट या हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल कर हमला कर सकता है। इसके मद्देनजर दिल्ली में गणतंत्र दिवस समारोह के आयोजन को लेकर सुरक्षा और कड़ी कर दी गई है। राजधानी को किसी भी हवाई हमले से बचाने के लिए हजारों की तादाद में पुलिस कर्मी तैनात रहेंगे। एेतिहासिक राजपथ पर सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए हैं। लश्कर ए तैबा के हमले की आशंका के चलते दिल्ली पुलिस और सभी सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हो गई हैं। दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सुबह 10:35 से लेकर 12:15 तक कोई विमान लैंड या टेक अॉफ नहीं कर पाएगा।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने टाइम्स अॉफ इंडिया को बताया कि हम एंट्री ड्रोन तकनीक की मदद से किसी भी हमले या उड़ती संदिग्ध चीज के बारे में पता लगा लेंगे। इसके अलावा दिल्ली की बड़ी बिल्डिंगों पर एंटी एयरक्राफ्ट गन का तैनात की गई हैं। अफसर ने कहा कि जगह-जगह सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं और कंट्रोल रूम भी स्थापित किया गया है। राज्य की सुरक्षा एजेंसियों को जारी अडवाइजरी में कहा गया कि वह नए तरह के आतंकी हमलों से निपटने के लिए नई तकनीकों और रणनीति का इस्तेमाल करें।

इसके अलावा सुरक्षा बलों से कहा गया है कि सभी पुलिस अधिकारियों और दूसरे लोगों की भी चेकिंग करें क्योंकि आतंकी यह आशंका जताई गई है कि वह किसी सुरक्षा बल के भेष में भी हमला कर सकते हैं। अडवाइजरी में कहा गया है, आतंकी फिदायीन हमले के लिए सुरक्षा बलों की वर्दी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। उनकी पहचान और तलाशी के लिए खास तौर पर इंतजाम किए जाने चाहिए। सुरक्षा एजेंसियों ने चेतावनी जारी करते हुए कहा था कि कुछ मुस्लिम विद्रोही समूह 9/11 जैसे हमले की प्लानिंग कर रहे हैं, जिसमें किसी हवाई जहाज का इस्तेमाल किया जा सकता है।

इससे पहले 18 जनवरी को इंटेलिजेंस ब्यूरो ने कहा था कि 7 आतंकी किसी तरह सेना की वर्दी हासिल करने में कामयाब हो गए हैं। आईबी ने कहा था कि 7 आतंकी चकरी और गुरदासपुर बॉर्डर पोस्ट के बाहर देखे गए हैं। उन्हें भारतीय सेना के सूबेदार और कैप्टन रैंक के अफसरों की वर्दियां मिल गई हैं, जिनका इस्तेमाल वह घुसपैठ के लिए कर सकते हैं। इसके चलते एयरपोर्ट और मेट्रो स्टेशनों के अलावा पंजाब में चुनावों की ड्यूटी के लिए तैनात जवानों को भी अलर्ट पर रहने को कहा गया था।

जम्मू-कश्मीर: गांदरबल जिले में सुरक्षा कर्मियों और आतंकियों में मुठभेड़, 2 आतंकी ढेर, देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X