ताज़ा खबर
 

सर्वे: अगर अभी हुए लोकसभा चुनाव तो एनडीए को मिलेंगी 342 सीटें, नरेंद्र मोदी देश के सबसे अच्छे पीएम, इंदिरा गांधी दूसरे नंबर पर

अगर अभी चुनाव हुए तो पश्चिमी बंगाल में बीजेपी का वोटिंग शेयर 17 फीसदी से बढ़कर 33 फीसदी हो जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (Photo: PTI)

मोदी सरकार के तीन साल पूरे होने पर एक सर्वे कराया गया। सर्वे में सामने आया है कि मोदी लहर अभी कायम है, यदि देश में अभी लोकसभा चुनाव होते हैं तो एनडीए को एक बड़ी बढ़त हासिल होगी। टाइम्स नाउ-वोटर्समूड रिसर्च (वीएमआर) के मुताबिक एनडीए के वोटिंग शेयर में 11 फीसदी की बढ़ोतरी होगी। इसके साथ ही एनडीए को 342 सीटें मिल सकती है। वहीं अकेली बीजेपी की बात करें तो सर्वे में सामने आया है कि बीजेपी को 284 सीटें मिलेंगी। कांग्रेस केवल 58 सीटों पर ही सिमट जाएगी। इसके अलावा स्थानीय पार्टियों के लिए इसमें खतरे की घंटी है। अगर पश्चिमी बंगाल में अभी चुनाव होता है तो बीजेपी का वोटिंग शेयर लगभग दोगुना हो जाएगा। अभी पश्चिमी बंगाल में बीजेपी का वोटिंग शेयर 17 फीसदी है जो बढ़कर 33 फीसदी हो जाएगा। वहीं तृणमूल कांग्रेस का शेयर 40 फीसदी से घटकर 37 फीसदी पर आ जाएगा।

नवीन पटनायक की पार्टी बीजू जनता दल को उड़ीसा में बड़ा नुकसान हो सकता है। पटनायक की पार्टी का वोटिंग शेयर 30 फीसदी से 17 फीसदी पर आ सकता है। 2014 के लोकसभा चुनाव में नवीन पटनायक की पार्टी का वोटिंग शेयर 45 फीसदी से घटकर 37 फीसदी पर आ गया था, जबकि बीजेपी के वोटिंग शेयर में दोगुने की बढ़ोतरी हुई थी। यह 21 फीसदी से बढ़कर 42 फीसदी पर पहुंच गया था। वहीं कांग्रेस को उड़ीसा में भारी नुकसान हुआ था कांग्रेस का शेयर 26 फीसदी से घटकर 13 फीसदी पर आ गया था। पॉपुलरिटी के मामले में पीएम मोदी टॉप पर हैं। सर्वे में 60 फीसदी वोट मोदी के खाते में गए हैं, वहीं 11 फीसदी राहुल गांधी के और 3.64 फीसदी अरविंद केजरीवाल के। 31 फीसदी से ज्यादा वोटरों का मानना है कि मोदी भारत के अब तक के सबसे अच्छे प्रधानमंत्री हैं। वहीं 23 फीसदी लोगों का मानना है कि इंदिरा गांधी सबसे अच्छी प्रधानमंत्री थीं। ब्रांड नमो नई ऊंचाईयों पर पहुंच गया है, वहीं महागठबंधन की उम्मीदें कम हुई हैं।

सर्वे में यह बताया गया है कि यह सब पाकिस्तान के खिलाफ पीएम के रवैये का नतीजा है। 66 फीसदी लोगों ने इसे पसंद किया है। वहीं 72 फीसदी लोगों का मानना है कि पाकिस्तान के खिलाफ अभी सर्जिकल स्ट्राइक जैसे और एक्शन होने चाहिए। एनडीए के तीन तलाक के मुद्दे को भी 61 फीसदी लोगों का समर्थन मिला है। इस सर्वे में 19 राज्यों के 52 लोकसभा क्षेत्रों में 15,600 लोगों को शामिल किया गया। इसमें हर उम्र के महिला और पुरूष दोनों को शामिल किया गया। यह सर्वे 8 मई 2017 से लेकर 20 मई 2017 तक किया गया।

मोदी सरकार के 3 साल: लेकिन इन 5 मोर्चों पर सरकार रही फेल, देखें वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App