ताज़ा खबर
 

श्रीनगर में एनकाउंटर में सुरक्षा बलों ने मार गिराए तीन आतंकी, इस साल 72 ऑपरेशन में 177 आतंकी हो चुके हैं ढेर

अधिकारियों ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की जानकारी मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने बटमालू के फिरदौसाबाद इलाके में देर रात करीब ढाई बजे घेराबंदी कर तलाश अभियान शुरू किया था।

kashmirतस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (फाइल फोटो)

जम्मू-कश्मीर में सेना को आतंकियों के खिलाफ बड़ी कामयाबी मिली है। सेना आज मुठभेड़ तीन आतंकियों को मार गिराया। जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने गुरुवार को बताया कि दुख की बात ये है कि इस मुठभेड़ में हमारे CRPF के एक डिप्टी कमांडेंट घायल हुए और साथ ही इसमें एक सिविलियन की जान भी गई। अभी तक इस साल के दौरान श्रीनगर शहर में 7 कामयाब ऑपरेशन किए जा चुके हैं।

उन्होंने बताया कि इन सात ऑपरेशनों में 16 आतंकवादियों को मारा गया है। इस साल कुल 72 ऑपरेशन में 177 आतंकवादी को मारा गया। इसमें बड़ी तादाद विदेशी आतंकवादी की है जिसका संबंध पाकिस्तान से है इसमें 22 आतंकवादी जो मारे गए हैं वो पाकिस्तान से जुड़े हुए हैं। इधर अधिकारियों ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की जानकारी मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने बटमालू के फिरदौसाबाद इलाके में देर रात करीब ढाई बजे घेराबंदी कर तलाश अभियान शुरू किया था।

उन्होंने बताया कि आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी की जिसके बाद तलाश अभियान मुठभेड़ में तब्दील हो गया। अधिकारियों ने बताया कि मुठभेड़ में कौंसर रियाज नाम की एक महिला की मौत हो गई। वहीं सीआरपीएफ के दो जवान घायल हो गए। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

Weather Today Live Updates

दूसरी तरफ पाकिस्तानी सेना ने जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा (एलओसी) से लगे दो सेक्टरों के पास अग्रिम इलाकों में गोलीबारी की और मोर्टार के गोले दागे। रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि भारतीय सेना ने भी इसका माकूल जवाब दिया। प्रवक्ता ने कहा, ‘पाकिस्तानी सेना ने सुबह करीब पौने सात बजे बिना किसी उकसावे के संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए बालाकोटा और मेंढर सेक्टर में छोटे हथियारों से गोलीबारी की और मोर्टार के गोले दागे।’पाकिस्तानी सेना इस महीने 24 बार संघर्ष विराम समझौते का उल्लंघन कर चुकी है।

अधिकारियों ने बताया कि राजौरी जिले के सुंदरबनी सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास मंगलवार को पाकिस्तानी सेना ने संघर्ष विराम समझौते का उल्लंघन करते हुए भारी गोलीबारी की थी और मोर्टार के गोले दागे थे। इस घटना में सेना का एक जवान शहीद हो गया था और एक अधिकारी सहित दो अन्य घायल हो गए थे। वहीं दो सितम्बर को राजौरी के केरी सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्तानी सेना द्वारा किए संघर्ष विराम उल्लंघन में एक जेसीओ मारा गया था। (एजेंसी इनपुट)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 यह उद्योगपति थे देश में कार के पहले मालिक, आगे चलकर उनके ही ग्रुप ने खड़ी की दिग्गज ऑटो कंपनी
2 कोरोना: दिल्ली सरकार ने कहा- हम जांच में हैं सबसे आगे, हाईकोर्ट बोला- ये जनता बोले तब तो, टेस्टिंग मज़बूत कीजिए
3 पीएम किसान स्कीम में घोटाले पर बोले केंद्रीय कृषि मंत्री, हमें पूरी जानकारी, पर ऐक्शन लेना राज्यों का काम
ये पढ़ा क्या?
X