ताज़ा खबर
 

यूपी: श्मशान की छत में खराब मटेरियल लगाने के आरोपी गिरफ्तार, इंजीनियर सहित तीन पकड़े गए

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने मामले को संज्ञान में लेते हुए आरोपियों के खिलाफ कारवाई के निर्देश दे दिए हैं। छत गिरने के मामले में ठेकेदार, कार्यपालक अधिकारी समेत कई लोगों के खिलाफ अलग अलग धाराओं के तहत मुरादनगर थाने में मामला दर्ज कर लिया गया है और इंजीनियर समेत तीन लोगों की गिरफ़्तारी भी हो चुकी है।

Ghaziabad , UP , Accidentघटनास्थल पर रेस्क्यू अभियान में जुटी एनडीआरएफ की टीम (फोटो क्रेडिट – PTI)

उत्तरप्रदेश के गाज़ियाबाद के मुरादनगर इलाके में श्मशान घाट की छत गिरने से अब तक 25 लोगों की मौत हो चुकी है। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने मामले को संज्ञान में लेते हुए आरोपियों के खिलाफ कारवाई के निर्देश दे दिए हैं। छत गिरने के मामले में ठेकेदार, कार्यपालक अधिकारी समेत कई लोगों के खिलाफ अलग अलग धाराओं के तहत मुरादनगर थाने में मामला दर्ज कर लिया गया है और इंजीनियर समेत तीन लोगों की गिरफ़्तारी भी हो चुकी है।

ताजा जानकारी के अनुसार मुरादनगर हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों ने अभी अभी दिल्ली मेरठ हाईवे को जाम कर दिया है। प्रदर्शन कर रहे लोग मृतक के परिवार वालों के लिए 15 लाख और सरकारी नौकरी साथ ही घायल हुए लोगों के परिवार के लिए 10 लाख के मुआवज़े की मांग कर रहे हैं।

इस हादसे पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दुःख जताते हुए कहा था कि उत्तरप्रदेश के मुरादनगर में हुए दुर्भाग्यपूर्ण हादसे की खबर से अत्यंत दुःख पहुंचा है। राज्य सरकार राहत और बचाव कार्य में जुटी है।  इस दुर्घटना में जान गँवाने वालों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूँ, साथ ही घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूँ।

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने मृतकों के परिजनों के लिए 2-2 लाख रुपये  की सहायता की घोषणा की है। साथ ही मेरठ जोन के एडीजी को इस घटना के संबंध में रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश भी दिए हैं। छत गिरने की घटना को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा है कि घटना से प्रभावित व्यक्तियों को हर संभव मदद पहुंचाई जाए और घायलों का उचित उपचार किया जाए।

कल मुरादनगर थाना क्षेत्र जे डिफेंस कॉलोनी में रहने वाले एक बुजुर्ग व्यक्ति की मौत हो गयी थी। जिसके अंतिम संस्कार में कई लोग पहुंचे थे। अंतिम संस्कार की प्रक्रिया के दौरान लोग श्मशान घाट के छत के नीचे खड़े हो गए थे। इसी दौरान छत भरभरा कर नीचे गिर गया और उसके मलबे में कई लोग दब गए थे। घटना की जानकारी मिलते ही तुरंत पुलिस और एनडीआरएफ की टीम घटनास्थल पर पहुँच गयी थी और रेस्क्यू अभियान शुरू कर दिया गया था।

Next Stories
1 सिंघु बॉर्डर पर प्रदर्शन के लिए पहुंचे किसान ने ट्रक को ही बना दिया आलीशान घर, देखें अंदर की तस्वीरें
ये पढ़ा क्या?
X