ताज़ा खबर
 

वीडियो: मुस्लिम युवक की जबरदस्‍त पिटाई, लगवाए पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे, पीटने वालों को सोशल मीड‍िया पर बताया जा रहा सैनिक

वीडियो पर कमेंट करते हुए कुछ यूजर्स लिख रहे हैं कि इन लोगों को लाठियों से मारने से कुछ नहीं होगा, इन्हें तो सीधे गोली मार देनी चाहिए।
तस्वीर फेसबुक पर शेयर किये गए वीडियो से ली गई है।

सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया जा रहा है। इस वीडियो में सेना की वर्दी में कुछ लोग एक शख्स की पिटाई कर रहे हैं और उसको पाकिस्तान मुर्दाबाद कहने के लिए फोर्स कर रहे हैं। सेना की वर्दी पहने इन लोगों के पास बंदूकें भी हैं। इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा जा रहा है कि कश्मीर में पत्थरबाजों को सबक सिखाती भारतीय सेना। हालांकि जनसत्ता.कॉम किसी भी तरह से इन लोगों के सैनिक होने की पुष्टि नहीं करता है क्योंकि इनके सैनिक होने की कोई आधिकारिक जानकारी नहीं मिली है। इस वीडियो पर यूजर्स प्रतिक्रियाएं देते हुए लिख रहे हैं कि सेना ने सही सबक सिखाया। वहीं कुछ यूजर्स ये भी लिख रहे हैं कि इस तरह की घटना सेना का सम्मान कम करती है। कुछ यूजर्स ऐसे भी हैं जो इस वीडियो की वैधानिकता पर ही सवाल उठा रहे हैं और लिख रहे हैं कि पता नहीं ये लोग सैनिक हैं भी या नहीं।

दरअसल वीडियो में दिख रहा है कि सेना की वर्दी में दो लोग एक लड़के को पकड़ रखे हैं। इस लड़के को वो दोनों नीचे बैठने को कह रहे हैं और लाठियों से पीट रहे हैं। थोड़ी देर में वहां वर्दी पहना एक शख्स और आता है। ये तीनों मिलकर लाल शर्ट पहने शख्स से पूछते हैं कि बुरहान तेरा बाप है क्या? उसके बाद उसपर लाठियां बरसाते हुए कहते हैं कि पाकिस्तान मुर्दाबाद बोल। मार खा रहा लड़का बोलता है कि मुझे मारो मत मैंने रोजा रखा हुआ है। उसके बाद तो सेना की वर्दी पहनें तीनों शख्स का पारा और चढ़ जाता है और उसे गालियां देते हुए पीटने लगते हैं।

इस वीडियो पर कमेंट करते हुए कुछ यूजर्स लिख रहे हैं कि इन लोगों को लाठियों से मारने से कुछ नहीं होगा, इन्हें तो सीधे गोली मार देनी चाहिए ताकि आगे से सेना पर उंगली उठाने से पहले ये लोग 100 बार सोचें। वहीं एक दूसरे यूजर ने लिखा कि सेना की इसी तरह की कार्रवाई के चलते भारत सरकार कश्मीरियों से दूर होती जा रही है। एक यूजर ने लिखा कि सेना को सावधान रहना चाहिए वर्ना कुछ लोग इस वीडियो को प्रपोगेंडा बनाकर यूएन में उनके खिलाफ इस्तेमाल कर सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.