ताज़ा खबर
 

उत्‍तर प्रदेश: चुनाव से पहले कांग्रेस के तीन विधायकों ने छोड़ी पार्टी, सपा का भी एक विकेट गिरा

उत्‍तर प्रदेश में अगले साल (2017) में विधानसभा चुनाव होंगे। कांग्रेस ने चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को इस बार राज्‍य में 27 साल बाद सत्‍ता वापसी कराने की जिम्‍मेदारी सौंपी है।

उत्‍तर प्रदेश चुनाव में कांग्रेस की रणनीति की जिम्‍मेदारी प्रशांत किशोर को सौंपी गई है।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की सरगर्मियां तेज होने के बीच कांग्रेस के तीन निष्कासित विधायकों तथा सपा के एक मौजूदा विधायक ने आज बसपा का दामन थाम लिया। रामपुर की स्वार सीट से विधायक नवाब काजिम अली खां, तिलोई सीट से विधायक डाक्टर मुस्लिम खां और स्याना सीट से विधायक दिलनवाज खां (तीनों कांग्रेस) तथा बुढ़ाना सीट से सपा विधायक नवाजिश आलम खां बसपा महासचिव और विधान परिषद में विपक्ष के नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी और पार्टी के प्रान्तीय अध्यक्ष रामअचल राजभर की मौजूदगी में बसपा में शामिल हो गये। सिददीकी ने संवाददाताओं को बताया कि भाजपा के वरिष्ठ नेता पूर्व मंत्री अवधेश वर्मा ने भी बसपा की नीतियों में आस्था जताते हुए पार्टी का दामन थाम लिया है। इन सभी लोगों के आने से बसपा को मजबूती मिलेगी। इस बीच, कांग्रेस के प्रान्तीय उपाध्यक्ष सत्यदेव त्रिपाठी ने तीन विधायकों के बसपा में शामिल होने पर कहा कि वे सभी निष्कासित विधायक हैं और वे जहां चाहें जा सकते हैं। इससे कांग्रेस को कोई फर्क नहीं पड़ता। यह पूछे जाने पर कि बसपा में शामिल होने वाले इन नेताओं को आगामी विधानसभा चुनाव का टिकट मिलेगा या नहीं, सिददीकी ने कहा कि अभी इस बारे में इंतजार करना होगा।

HOT DEALS
  • Sony Xperia L2 32 GB (Gold)
    ₹ 14845 MRP ₹ 20990 -29%
    ₹1485 Cashback
  • Jivi Energy E12 8 GB (White)
    ₹ 2799 MRP ₹ 4899 -43%
    ₹0 Cashback

इससे पहले, बसपा के स्‍वामी प्रसाद माैर्य ने मायावती पर चुनाव में टिकट बेचने का आरोप लगाते हुए पार्टी से इस्‍तीफा दे दिया था। पिछले दिनों भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह ने उन्‍हें भव्‍य कार्यक्रम में पार्टी की सदस्‍यता दिलाई। माैर्य पिछड़ी जाति के बड़े वोटबैंक के नेता हैं और भाजपा आने वाले चुनावों में उनकी पूरा फायदा उठाने की फिराक में रहेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App