ताज़ा खबर
 

दहेज मांगी तो लड़की ने तोड़ दी मंगनी, Facebook पर किया एलान

दहेज मांगना, देना या लेना 1962 के दहेज निषेध कानून के तहत अपराध है। पर इस कानून का सख्‍ती से अमल सुनिश्चित नहीं हो पाया है।

Author नई दिल्ली | December 9, 2015 12:04 pm

दहेज मांगना, देना या लेना 1962 के दहेज निषेध कानून के तहत अपराध है। पर इस कानून का सख्‍ती से अमल सुनिश्चित नहीं हो पाया है। इस कानून पर समाज की सोच भारी है। इसलिए अभी भी बड़े पैमाने पर दहेज देने-लेने का चलन जारी है। लेकिन केरल की एक लड़की ने मिसाल कायम की है। उसने दहेज मांगे जाने पर रिश्‍ता तोड़ दिया और इसका एलान फेसबुक पर किया।

रेम्‍या ने फेसबुक पोस्‍ट में लिखा- दोस्‍तो! जो लोग मेरी शादी की तारीख के बारे में पूछते रहे हैं, उनके लिए मैं एक एलान करना चाहती हूं। मंगनी से पहले जो शख्‍स कहा करता था कि उसे सिर्फ मेरी जरूरत है, जब पांच लाख रुपए और 50 सोने के जेवर मांग रहा है।

मैं दहेज के एकदम खिलाफ हूं। मेरा मानना है कि जो परिवार अपनी जुबान पर कायम नहीं रह सकता, उसका हिस्‍सा बनना बेवकूफी होगी। मैंने इस रिश्‍ते को आगे नहीं बढ़ाने का फैसला किया है। शुक्रिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App