ताज़ा खबर
 

आज ही के दिन दी गई थी भारत-पाकिस्‍तान बंटवारे को मंजूरी

बंटवारे को देश के इतिहास की सबसे दुखद घटनाओं में शुमार किया जाता है। रातों रात लाखों लोगों की तकदीर बदल गई।

Author नई दिल्ली | Updated: June 14, 2018 5:08 PM

बंटवारे को देश के इतिहास की सबसे दुखद घटनाओं में शुमार किया जाता है। रातों रात लाखों लोगों की तकदीर बदल गई। कोई बेघर हुआ तो कोई अपने परिवार से बिछड़ गया। बंटवारे ने दो देशों के बीच ही नहीं बल्कि लोगों के दिलों में भी नफरत के खंजर से एक ऐसी लकीर खींच दी, जिससे आज भी लहू रिसता रहता है। बंटवारे के उस दुखद इतिहास में 15 जून का दिन इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि कांग्रेस ने 1947 में 14-15 जून को नयी दिल्ली में हुए अपने अधिवेशन में बंटवारे के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी। आजादी की आड़ में अंग्रेज भारत को कभी न भरने वाला एक जख्म दे गए।

इतिहास में 15 जून के नाम पर दर्ज अन्य घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है:-
1896 : जापान के सानरिकू तट पर आई सूनामी में करीब 22,000 लोगों की मौत। 1908 : कलकत्ता शेयर बाजार की शुरुआत।
1947 : अखिल भारतीय कांग्रेस ने नई दिल्ली में भारत के विभाजन के लिए ब्रिटिश योजना स्वीकार की।
1954 : यूरोप के फुटबॉल संगठन वएऋअ (यूनियन आॅफ यूरोपियन फुटबाल एसोसिएशन) का गठन। 1982 : फÞाकलैंड में अर्जेन्टीना की सेना ने ब्रिटिश सेना के सामने घुटने टेके।
1988 : नासा ने स्­पेस व्­हिकल एस-213 लॉन्­च किया।
1994 : इस्रायल और वैटीकन सिटी में राजनयिक संबंध स्थापित।
1997 : आठ मुस्लिम देशों द्वारा इस्तांबुल में डी-8 नामक संगठन का गठन।
1999 : लाकरबी पैन एम. विमान दुर्घटना के लिए लीबिया पर मुकदमा चलाने की अमेरिकी अनुमति।
2001 : शंघाई पांच को शंघाई सहयोग संगठन का नाम दिया गया। भारत और पाकिस्तान दोनों को सदस्यता न देने का निर्णय।
2004 : ब्रिटेन के साथ परमाणु सहयोग को राष्ट्रपति बुश की स्वीकृति मिली।
2006 – भारत और चीन ने पुराना सिल्क रूट खोलने का निर्णय लिया।
2008 – आक्सफॉर्ड विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने पहली बार अल्ट्रावायलेट प्रकाश का विस्फोट कर बड़े सितारों की अंतिम स्थिति देखी।

Next Stories
1 UN ने कश्‍मीर में सीर‍िया जैसी स्‍थ‍ित‍ि वाली जांच की स‍िफार‍िश की, भारत ने खार‍िज की र‍िपोर्ट
2 14 महीने में कभी नहीं हुई इतनी महंगाई, मोदी सरकार ने जारी किया आंकड़ा
3 रेलवे के इस ऐप से बुक-कैंसल कर सकेंगे अनारक्षित टिकट, साथ में कई दूसरी सहूलियतें, ऐसे करें इस्तेमाल
Ramayan Live:
X