ताज़ा खबर
 

तेल के दाम और दाढ़ी में फर्क होता है साहेब, लगातार बढ़ाए जा रहे हो, वायरल हो रहा तेज प्रताप का ट्वीट

प्रियंका गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा कि भाजपा सरकार को सप्ताह के उस दिन का नाम 'अच्छा दिन' कर देना चाहिए जिस दिन डीजल-पेट्रोल के दामों में बढ़ोत्तरी न हो।

TEJPRATAP YADAVआरजेडी नेता तेज प्रताप यादव (फोटो सोर्सः ट्विटर/@TejYadav14)

RJD नेता तेज प्रताप यादव का एक ट्वीट तेजी से वायरल हो रहा है। इसमें उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि तेल के दाम और दाढ़ी में फर्क होता है साहेब, लगातार बढ़ाए जा रहे हो। उधर, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी तेल के दाम लगातार बढ़ने पर ट्वीट के जरिए सरकार पर कटाक्ष किया।

प्रियंका ने अपने ट्वीट में लिखा कि भाजपा सरकार को सप्ताह के उस दिन का नाम ‘अच्छा दिन’ कर देना चाहिए जिस दिन डीजल-पेट्रोल के दामों में बढ़ोत्तरी न हो। उनका कहना था कि महंगाई की मार के चलते बाकी दिन तो आमजनों के लिए ‘महंगे दिन’ हैं। प्रियंका इससे पहले भी तेल के दाम बढ़ने पर सरकार पर अपने शब्द बाण चला चुकी हैं।

उधर, सोशल मीडिया पर इस ट्वीट को लेकर लोगों ने जमकर रिएक्शन दिए। कुछ ने तेज प्रताप को चारा घोटाले की याद दिलाई तो कुछ ने बीजेपी सरकार को जमकर आड़े हाथ लिया। मीरा कृष्णा ने लालू यादव के एक पोस्टर के साथ ट्वीट किया कि पेट्रोल के दाम तो बढ़ते हुए दिख रहे हैं पर चारा पुत्रों को विकास नजर नहीं आ रहा। जो पैसा पेट्रोल के बढ़ते दामों से सरकार के पास आ रहा है, उसका उपयोग देश के विकास में खर्च हो रहा है। लालू के समय तो पूरा पैसा चारा घोटालों में चला जाता था। नीरज नाम के एक यूजर ने तेजस्वी पर कटाक्ष करते हुए लिखा, कम से कम ये बढ़ोतरी देश हित में तो हो रही है, किसी की जेब में तो नहीं जा रही कोई चारा इंसान तो नहीं खा रहा।

सरकार की आलोचना में मोहम्मद मुजीब ने लिखा कि वो जो पहली सरकार में आप लोग मुजरा करते थे सड़क पर, वो देश हित में था क्या। प्रकाश झा ने लिखा कि ऐसा उत्तम क्वालिटी का गांजा कहां मिलता है, जिसे खाने के बाद आदमी ऐसी बहकी बहकी बातें करने लगता है। एक अन्य यूजर ने लिखा कि जब तेल के दाम 500 रुपए हो जाएंगे तो भी ये अंध भक्त कहेंगे कि ये देश का हित है। इनके चाचा की सरकार जो है। उसकी आलोचना तो इनसे होने से रही।

प्रियंका के ट्वीट पर कुछ लोगों ने अपने-अपने हिसाब से रिएक्शन दिए। एक ने लिखा राजस्थान का बजट हाथी का दांत हो गया है। अभी राज्य की जनता पिछले ही बजट में की गई घोषणाओं का इंतजार कर रही है। राज्य की कांग्रेस सरकार पूरी तरीके से चौपट राजा वाला किरदार निभा रही है। केके शास्त्री नाम के यूजर ने सरकार पर तंज कसते हुए लिखा कि बिल्कुल सही कहा आपने दीदी, लेकिन अदानी-अंबानी के घर में रोज दिवाली मनाने की जिसने कसम खा रखी हो, तो उसे किसान मजदूर और मध्यम वर्ग के घर की हंसी अच्छी नहीं लगेगी।

Next Stories
1 सिंघु बॉर्डर पर किसानों का आंदोलन नहीं बल्कि भू-माफियाओं का आंदोलन है- डिबेट में लेखिका के बिगड़े बोल
2 पूर्व RSS प्रमुख की तारीफ में संस्कृति मंत्रालय का ट्वीट, पूर्व सचिव बोले- शर्म से झुक गया सिर, गांधी के स्वतंत्रता संग्राम के विरोधी थे गोलवलकर और संघ
3 दिल्ली दंगा: 1800 से ज्यादा की गिरफ्तारी, FRS तकनीक से पकड़े गए 137; जानिए कैसे काम करता है ये सिस्टम
ये पढ़ा क्या?
X