scorecardresearch

यूरोप में शुरू हुई कोरोना की छठी लहर

यूरोप के कई देशों में कुछ सप्ताह से कोरोना विषाणु संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी हो रही है।

pandemic
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (एक्सप्रेस प्रतीकातम्क फोटो)

यूरोप के कई देशों में कुछ सप्ताह से कोरोना विषाणु संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी हो रही है। माना जा रहा है कि ब्रिटेन सहित यूरोप के देशों में कोरोना की छठी लहर शुरू हो गई है। आंकड़े भी इस बात की पुष्टि कर रहे हैं। कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी के पीछे विषाणु के ओमीक्रान बहुरूप के बीए.2 उप स्वरूप को वजह माना जा रहा है।

जान होपकिंस कोरोना विषाणु केंद्र के मुताबिक पिछले सप्ताह फिनलैंड में 84 फीसद मामलों में वृद्धि दर्ज की गई है। यहां एक सप्ताह में 62,500 से अधिक मामले आए हैं। इसी तरह स्विट्जरलैंड में 45 फीसद बढ़ोतरी के साथ साप्ताहिक मामले 1,82,190 आए। ब्रिटेन में कोरोना मामलों में सप्ताहिक वृद्धि 31 फीसद रही है और इस दौरान यहां 4,14,480 मामले दर्ज किए गए हैं।

इसी तरह आस्ट्रिया, बेल्जियम, फ्रांस, जर्मनी और इटली में भी कोरोना के मामलों और अस्पतालों में भर्ती मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। हालांकि अमेरिका में अभी तक कोरोना मामलों में कमी ही दर्ज की जा रही है। विशेषज्ञों का मानना है कि यूरोप की तरह अमेरिका में भी मामलों में बढ़ोतरी देखी जा सकती है। विषाणु वैज्ञानिकों का कहना है कि यूरोप में बढ़ रहे मामलों के पीछे विषाणु के ओमीक्रान बहुरूप के बीए.2 उप स्वरूप है।

यूरोप के देशों में कोरोना संबंधी प्रतिबंधों में छूट

कोरोना के संक्रमण में कमी को देखते हुए अधिकतर यूरोपीय देशों ने अपने नागरिकों के लिए कोरोना संबंधी प्रतिबंधों में छूट को एलान किया था। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जानसन ने पिछले महीने ही सभी प्रतिबंध हटा लिए थे। साथ ही जानसन ने एलान किया था कि भविष्य में कोरोना की लहर आती है तो वे पूर्णबंदी के स्थान पर टीकाकरण पर अधिक ध्यान देंगे। फ्रांस ने भी हाल ही में कोरोना से संबंधित प्रतिबंधों में छूट दी थी। यहां अब सार्वजनिक स्थानों पर जाने से पहले टीकाकरण को प्रमाणपत्र नहीं देखा जा रहा है। जर्मनी में बुधवार को ढाई लाख मामले और 250 मृत्यु दर्ज की गर्इं, उसके बावजूद यहां पर प्रतिबंधों में ढील दी गई है।

अस्पताल में बढ़ रही मरीजों की संख्या

ब्रिटेन में सोमवार को 10,576 मरीज कोरोना संक्रमण का इलाज कराने के लिए अस्पताल में भर्ती थे। ब्रिटेन की राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) के मुताबिक देश में 25 फीसद प्रति सप्ताह से अस्पतालों में मरीजों का संख्या बढ़ रही है। देश का कोई क्षेत्र ऐसा नहीं है जहां ऐसा न हो रहा हो।

चीन में संक्रमण के दैनिक मामले दोगुने

चीन में एक दिन पहले के मुकाबले मंगलवार को कोरोना विषाणु संक्रमण के दोगुने दैनिक मामले सामने आए। चीन, वैश्विक महामारी के शुरुआती दिनों के बाद से अब तक के सबसे बड़े प्रकोप का सामना कर रहा है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बताया कि चौबीस घंटे में संक्रमण के 3,507 नए मामले आए, जबकि उससे एक दिन पहले 1,337 दैनिक मामले आए थे। चीन में कोरोना विषाणु के अत्यधिक संक्रामक ‘स्टील्थ ओमीक्रोन’ स्वरूप के कारण संक्रमण के मामले एक बार फिर तेजी से बढ़ रहे हैं। पूर्वोत्तर चीन के जिलिन प्रांत में संक्रमण के सबसे अधिक 2,601 मामले आए हैं।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.