ताज़ा खबर
 

ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए रोते हुए शिकायत करने लगा शख्स, केंद्रीय मंत्री बोले- ऐसा करेगा तो दो खाएगा

दरअसल, दामोह से सांसद प्रहलाद पटेल आज अस्पताल के दौरे पर गए थे। एक व्यक्ति अस्पताल के बाहर खड़ा होकर अपनी मां के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए गुहार लगा रहा था। उसी समय वहां केंद्रीय मंत्री पहुंच जाते हैं। व्यक्ति उनसे अपनी बात कहता है तो वह उसे डांटने लग जाते हैं।

Corona, Covid-19, Oxygen, Bihar, Prahalad Patel, Modi,s Ministerएमपी के दामोह के अस्पताल में ऑक्सीजन की मांग कर रहे व्यक्ति को डांटते केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल (फोटो स्क्रीनशॉट ट्विटर@gouramit)

एक तरफ कोरोना हाहाकार मचा रहा है वहीं दूसरी तरफ सरकार का असंवेदनशील चेहरा सामने आ रहा है। ऑक्सीजन सिलेंडर की गुहार लगाते एक व्यक्ति ने शिकायत की तो केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल ने उसे झिड़कते हुए कहा कि ऐसा करेगा तो दो खाएगा। घटना मध्य प्रदेश के दामोह अस्पताल की है।

दरअसल, दामोह से सांसद प्रहलाद पटेल आज अस्पताल के दौरे पर गए थे। एक व्यक्ति अस्पताल के बाहर खड़ा होकर अपनी मां के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए गुहार लगा रहा था। उसी समय वहां केंद्रीय मंत्री पहुंच जाते हैं। व्यक्ति उनसे अपनी बात कहता है तो वह उसे डांटने लग जाते हैं। हालांकि, बाद में उनका रवैया पहले से थोड़ा बदलता है और वह उससे कहते हैं कि जिस चीज की जरूरत हो वो मिलेगी।

सोशल मीडिया पर वारल इस वीडियो को लेकर लोगों ने जमकर अपनी भड़ास निकाली। प्रभाशंकर मिश्रा ने ट्वीट कर रहा-और नही तो क्या, जनता ऑक्सिजन कैसे मांग सकती है महाशय से। महाशय ज्यादा गुरुर शोभा नहीं देता। एक दिन यही जनता भाषा आपको भी सिखाएगी। एक अन्य यूजर ने लिखा-खाने खिलाने का तो हिंदुस्तान में चलन है। अब वो खुलकर सामने आ रहा है।

उमा शंकर ने लिखा- साहेब ने मंत्री भी वैसे चुने हैं जो जानता है कि जीतना तो modi-modi करके है तो पब्लिक का कैसा डर! सारे मिनिस्टर तो साहेब के मोहरे हैं जिनका अपना कोई वजूद नही है, इसलिए अपने गुस्से को 2024 तक संभाल के रखिए। सत्येंद्र गुप्ता ने लिखा- थोड़ा फेमस करो इनको। तभी ये मानने वाले हैं।

गौरतलब है कि देश में कोरोना अपने पूरे जोर पर है। अस्पतालों में लोगों की भीड़ लगी है। लोग बेड और ऑक्सीजन के लिए तरस रहे हैं। ऐसे में एक तरफ पीएम मोदी और अमित शाह बंगाल में चुनाव जीतने में लगे हैं तो बाकी मंत्रियों का पता ठिकाना नहीं मिल रहा। सरकार का इस तरह का असंवेदनशील चेहरा पहली बार दिखा। एक तरफ लोग हाहाकार कर रहे हैं तो बीजेपी के नेता टीवी पर आकर यह समझाने में लगे हैं कि कांग्रेस किस कदर गंदी राजनीति कर रही है।

बेशर्मी की हद तब हो जाती है जब केंद्र पर सवाल उठाने वाले लोगों से ये प्रवक्ता लड़ने पर उतारू हो जाते हैं। एक प्रवक्ता से जब बंगाल चुनाव में मोदी की सक्रियता को लेकर पिछले दिनों सवाल किया गया तो उनका कहना था कि पीएम पर सवाल मत उठाइये। उनके दिल में देश के लोगों के लिए बहुत सारा दर्द है। लेकिन लोग मर रहे हैं तो सवाल तो पूछेंगे ही कि सरकार है तो कहां?

Next Stories
1 PK की पीएम से अपील- लोग सांस नहीं ले पा रहे, धैर्य बनाए रखने को कम से कम ऑक्सीजन तो मिले
2 ऑक्सीजन पर HC की केंद्र को फटकार, कहा- सरकार चाहे तो धरती-आकाश एक कर सकती है
3 देश में हाहाकार, अब पीएम ने किया अपनी रैलियाँ रद्द करने का विचार, हाईकोर्ट से भी चुनाव आयोग को लताड़
यह पढ़ा क्या?
X