ताज़ा खबर
 

संसद के शीतकालीन सत्र के पहले दिन पहली बार हुईं ये पांच बातें

26 नवंबर को संसद का शीतकालीन सत्र शुरू हुआ। सरकार ने इस दिन को संविधान दिवस के रूप में मनाया। इस मौके पर संसद में कई बातें पहली बार हुईं।

26 नवंबर को संविधान के निर्माण पर एक प्रदर्शनी का उद्घाटन करने के बाद संसद के पुस्‍तकालय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फोटो-पीटीआई)

26 नवंबर को संसद का शीतकालीन सत्र शुरू हुआ। सरकार ने इस दिन को संविधान दिवस के रूप में मनाया। इस मौके पर संसद में कई बातें पहली बार हुईं। 1. संसद भवन पर रोशनी से शानदार सजावट की गई है। 2. केंद्रीय कक्ष में शहनाई प्‍ले की गई थी। घुसते ही शहनाई की मीठी धुन कानों में गूंज रही थी। 3. संसद परिसर में डॉ. भीम राव अंबेडकर से जुड़ी प्रदर्शनी लगाई गई। 4. सरकार ने अंग्रेजी और हिंदी में एक बुकलेट बांटा। इसमें डॉ. अंबेडकर के भाषणों के अहम बिंदु लिखे हुए हैं। 5. यही नहीं, पहली बार लोकसभा की विजिटर्स गैलरी में सत्र चलने के दौरान स्टिल कैमरा फोटोग्राफर को घुसने की इजाजत दी गई। वह स्‍पीकर और सत्‍ता पक्ष के लोगों की तस्‍वीरें उतार रहे थे। लोकसभा टीवी की सीईओ सीमा गुप्‍ता स्‍पीकर और प्रधानमंत्री पर कैमरा फोकस कर वीडियो बनाती देखी गईं।

ऐसा पहली बार हुआ कि स्‍पीकर और सत्‍ताधारी पक्ष के सदस्‍यों की तस्‍वीरें उतारने के लिए फोटोग्राफर को संसद के भीतर जाने के लिए नियम में बदलाव किया गया। यह देख कर विपक्ष भी हैरान था। शायद विपक्ष की शिकायत थी कि अगर फोटोग्राफर को इजाजत दे ही दी तो मीडिया के कैमरामैन और फोटोग्राफर्स का बैन क्‍यों रखा? हालांकि, इस मुददे पर न्‍यूज फोटोग्राफर्स ने मंगलवार को बैठक करने और लोकसभा स्‍पीकर के सामने मुद्दा उठाने का फैसला किया है।

Read Also: 

सोनिया का एनडीए सरकार पर वार, कहा-संविधान को न मानने वाले ही जप रहे हैं इसका नाम

संसद में बोले राजनाथ- अपमान के बाद भी अंबेडकर ने देश छोड़ने की बात नहीं सोची 

Next Stories
1 पृथ्‍वी-2 का सफल परीक्षण, 1000 किलो वजनी हथियार ले जाने में सक्षम है यह मिसाइल
2 2013 दंगा मामले में AAP विधायक अखिलेश त्रिपाठी गिरफ्तार
3 ‘सामना’ ने आमिर खान को कहा- ‘दि इडियट’, BJP सांसद बोले- ऐसे बयान देने वालों को मत बनाओ ब्रांड एम्‍बैसेडर
ये पढ़ा क्या?
X