RSS प्रमुख मोहन भागवत बोले- 75 सालों में हमें जितना आगे बढ़ना चाहिए था उतना आगे नहीं बढ़े, बताया कैसे बढ़ सकता है देश

भागवत ने कहा कि आजादी के बाद 75 वर्ष में जितना आगे बढ़ना चाहिए था, उतना आगे हम नहीं बढ़ पाए। जिस दिशा में देश को आगे ले जाना चाहिए था, उस दिशा में और उस रास्ते पर नहीं चले, इसलिए नहीं बढ़ पाए।

mohan bhagwat, rss chief, love jihad, hindu muslim
बच्चों को धर्म का आदर करना सिखाएं- मोहन भागवत (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

जैसे जैसे यूपी चुनाव नजदीक आते जा रहे हैं, संघ और बीजेपी के कांग्रेस पर हमले बढ़ते जा रहे हैं। कभी नेहरू तो कभी कांग्रेस शासन काल की याद दिलाकर संघ व बीजेपी के नेता कांग्रेस को कटघरे में खड़ा करने की कोशिश कर रहे हैं। रविवार को संघ प्रमुख मोहन भागवत ने एक बार फिर कांग्रेस पर तीखा निशाना साधा। कांग्रेस शासन पर उन्होंने सवाल खड़े किए।

सरसंघ संचालक मोहन भागवत ने कहा कि आजादी के बाद देश को जितना आगे बढ़ना चाहिए था, उतना आगे नहीं बढ़ पाया। भागवत ने कहा कि देश को आगे ले जाने की दिशा में आगे चलेंगे तो हम जरूर आगे बढ़ेंगे। 15-20 वर्ष में जरूर अपेक्षित विकास होगा। वह यहां विज्ञान भवन में आयोजित ‘संत ईश्वर सम्मान 2021’ कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

भागवत ने कहा कि आजादी के बाद 75 वर्ष में जितना आगे बढ़ना चाहिए था, उतना आगे हम नहीं बढ़ पाए। जिस दिशा में देश को आगे ले जाना चाहिए था, उस दिशा में और उस रास्ते पर नहीं चले, इसलिए नहीं बढ़ पाए। उन्होंने कहा कि भारत ने आदिकाल से पूरी दुनिया को सुसंस्कृत बनाने का काम किया। भारत का इरादा कभी किसी को जीतने का नहीं रहा और ना ही किसी को बदलने का रहा।

सरसंघ संचालक ने कहा कि जब हम सबका साथ ,सबका विकास के मंत्र को आत्मसात करके काम करेंगे, तब 15-20 वर्षो में देश का पूरा विकास हो जाएगा। उन्होंने स्वतंत्रता सेनानियों को याद करते हुए कहा कि दुनिया के सभी देशों में मिलाकर अब तक जितने महापुरुष हुए होंगे, उतने हमारे देश में बीते 200 वर्षों में हो गए। इनमें से प्रत्येक का जीवन हम सभी के लिए राह उजागर करता है।

जनजातीय कार्य मंत्री अर्जुन मुंडा ने कहा कि भगवान बिरसा मुंडा की जयंती पर देश में जनजातीय गौरव दिवस मनाने का निर्णय देश के संपूर्ण विकास का मार्ग प्रशस्त करेगा। समारोह में केंद्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह और अश्विनी कुमार चौबे भी मौजूद थे।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट