scorecardresearch

अस्पताल में भर्ती हुए बगैर भी मिल जाता है Ayushman Yojana का फायदा, जानें- क्या आप हैं लाभ के हकदार?

आयुष्‍मान कार्ड योजना तहत हर साल 10 करोड़ परिवारों को पांच लाख तक का मुफ्त में इलाज किया जाता है। इसमें शहर से लेकर गांव तक गरीब परिवारों को इस योजना के तहत लाभ दिया जाता है। इसके तहत केंद्र सरकार ने बच्‍चे, सीनियर सिटीजन व महिलाओं को शामिल किया गया है।

अस्पताल में भर्ती हुए बगैर भी मिल जाता है Ayushman Yojana का फायदा, जानें- क्या आप हैं लाभ के हकदार?
अस्पताल में भर्ती हुए बगैर भी मिल जाता है Ayushman Yojana का फायदा, जानें- क्या आप हैं लाभ के हकदार? (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

आयुष्‍मान कार्ड योजना तहत हर साल 10 करोड़ परिवारों को पांच लाख तक का मुफ्त में इलाज किया जाता है। इसमें शहर से लेकर गांव तक गरीब परिवारों को इस योजना के तहत लाभ दिया जाता है। इसके तहत केंद्र सरकार ने बच्‍चे, सीनियर सिटीजन व महिलाओं को शामिल किया गया है।

आयुष्‍मान कार्ड बनवाने के लिए क्‍या होनी चाहिए योग्‍यता
ग्रामीण इलाके में आयुष्‍मान कार्ड के अंतर्गत आने के लिए आपके पास कच्चा मकान, परिवार की मुखिया महिला हो, परिवार में कोई दिव्यांग हो, अनुसूचित जाति/जनजाति से हों और भूमिहीन व्यक्ति/दिहाड़ी मजदूर इसके अलावा ग्रामीण इलाके के बेघर व्यक्ति, निराश्रित, दान या भीख मांगने वाले, आदिवासी और क़ानूनी रूप से मुक्त बंधुआ आदि लोगों को आयुष्‍मान कार्ड योजना का लाभ दिया जाता है।

जबकि शहरी इलाके के लिए भिखारी, कूड़ा बीनने वाले, घरेलू कामकाज करने वाले, रेहड़ी-पटरी दुकानदार, मोची, फेरी वाले, सड़क पर कामकाज करने वाले अन्य व्यक्ति इसका लाभ ले सकते हैं। साथ ही कंस्ट्रक्शन साईट पर काम करने वाले मजदूर, प्लंबर, राजमिस्त्री, मजदूर, पेंटर, वेल्डर, सिक्योरिटी गार्ड, कुली और भार ढोने वाले अन्य कामकाजी व्यक्ति स्वीपर, सफाई कर्मी, घरेलू काम करने वाले, टेलर, ड्राईवर, रिक्शा चालक, दुकान पर काम करने वाले लोग भी इस योजना के तहत शामिल किए गए हैं।

बिना भर्ती हुए कैसे मिलता है लाभ
आयुष्‍मान योजना के अंतर्गत आने वाले सभी योग्‍य लोगों को इस योजना का लाभ दिया जाता है। प्रधानमंत्री जन आरोग्‍य योजना में गंभीर बीमारियों को शामिल किया गया है। जिसके अंतर्गत किसी भी सरकारी अस्‍पताल में भर्ती के दौरान यह योजना पहले दिन से ही लागू हो जाती है और आपको पांच लाख तक का मुफ्त में इलाज दिया जाता है। अगर मरीज को अस्‍पताल से छुट्टी दे दी जाती है और कार्ड पर पांच लाख तक के बीमा का इस्‍तेमाल नहीं हो पाया है तो आप दवाइयां और अन्‍य जरुरी चीजें भी बिना भर्ती के ले सकते हैं।

यह भी पढ़ें: अगर UIDAI की इन SMS सुविधाओं से आप अभी तक हैं अनजान, तो जान लें पूरा प्रोसेस

गंभीर बीमारियों का होता है इलाज
आयुष्‍मान योजना के अंतर्गत गंभीर बीमारियों का इलाज किया जाता है। इसमें कैंसर, डेंगू, कोरोना वायरस, मलेरिया व अन्‍य गंभीर बीमारियां शामिल हैं। इस योजना के अंतर्गत एक साल में 10.74 करोड़ से अधिक गरीब और वंचित परिवार या लगभग 50 करोड़ लाभार्थी इस योजना से लाभ पा सकते हैं। इस योजना के तहत अस्पताल में भर्ती होने से 3 दिन पहले और 15 दिन बाद तक का उपचार, स्वास्थ्य इलाज और दवाइयां मुफ्त उपलब्ध होती हैं।

पढें यूटिलिटी न्यूज (Utility News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 13-10-2021 at 10:17:10 am
अपडेट