ताज़ा खबर
 

थावरचंद गहलोत का दावा- 9 हजार मैला ढोहने वालों को काम छोड़ने पर दिए गए 40,000 रूपए

थावरचंद गहलोत ने कहा कि हम उन लोगों के बैंक खातों के विवरण मांग रहे हैं जो मैला ढोने का काम छोड़ना चाहते हैं ताकि उनके खातों में 40,000 रूपए जमा कराए जा सकें।

Author नई दिल्ली | July 21, 2016 4:21 PM
एक अंदाजे के अनुसार देश में 2.5 लाख सिर पर मैला ढोने वाले हैं।

केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत ने  बताया कि सिर पर मैला ढोने का काम छोड़ने वाले लोगों को 40,000 रूपये की एकमुश्त वित्तीय सहायता दे दी गई है और अभी तक 9,000 लोगों को पुनर्वासित भी किया जा चुका है।  उन्होंने कहा कि सभी राज्यों से संभावित लाभार्थियों के बैंक खातों का विवरण भेजने को कहा गया है ताकि केंद्र प्रत्यक्ष लाभ अंतरण :डीबीटी: के जरिए उन्हें मदद मुहैया करवा सके।

सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत ने कहा, ‘‘ हालांकि एक अंदाजे के अनुसार देश में 2.5 लाख सिर पर मैला ढोने वाले हैं लेकिन हमने जब इस संबंध में जानकारी मांगी तो केवल 10-12 राज्यों ने ही हमें विवरण भेजा और यह आंकड़ा 12,228 हैं जिनमें से हमने 9,000 लोगों को पुनर्वासित भी कर दिया है। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘ हम उन लोगों के बैंक खातों के विवरण मांग रहे हैं जो सिर पर मैला ढोने का काम छोड़ना चाहते हैं ताकि उनके खातों में 40,000 रूपए जमा कराए जा सकें। जैसे कि भारत सरकार की एक डीबीटी योजना है उसके तहत लाभार्थियों को मदद पहुंचाने के लिए हमें उनके नाम और पते की जरूरत होती है। ’’

गहलोत ने कहा, ‘‘ हम सभी राज्यों से अनुरोध करते हैं कि वे एक सर्वेक्षण कर सिर पर मैला ढोने वाले लोगों के संबंध में जानकारी प्राप्त करें और हमें उनके बैंक खातों के विवरण भेजें ताकि हम उन्हें मदद की राशि पहुंचा सके। ’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X