ताज़ा खबर
 

जम्‍मू-कश्‍मीर: शोपियां में बड़ा आतंकी हमला, चार पुलिसकर्मी शहीद

आतंकवादियों ने चार पुलिसकर्मियों काे गोली मारकर शहीद कर दिया है। पुलिसकर्मियों पर हमले के बाद भारी संख्या में सुरक्षाबलों ने सर्च आॅपरेशन शुरू कर दिया है। ये वारदात शोपियां जिले के अराहाम इलाके में हुई है।

शोपियां हमले के बाद घायल पुलिसकर्मियों को अस्‍पताल लेकर आई एंबुलेंस। फोटो- एएनआई

जम्मू-कश्मीर के शोपियां में आतंकवादियों ने एक पुलिस पार्टी पर हमला कर दिया, इस घटना में चार पुलिसकर्मी शहीद हो गये। जबकि एक अन्य पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल है। हमले के बाद भारी संख्या में सुरक्षाबलों ने सर्च आॅपरेशन शुरू कर दिया है। समाचार एजेंसी एएनआई की खबर के मुताबिक ये वारदात शोपियां जिले के अराहाम इलाके में हुई है। बताया जा रहा है कि आतंकवादी हमले के बाद तीन एके—47 भी लूटकर ले गए हैं। इस हमले की ​जिम्मेदारी जैश ए मुहम्मद और हिज्ब उल मुजाहिदीन ने ली है।

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने हमले की पुष्टि कर दी है। पुलिस के मुताबिक आतंकियों ने एस्कॉर्ट पार्टी को निशाना बनाकर ये हमला किया था। हमले में चार जवान गंभीर रूप से घायल हुए थे। इन सभी को अस्पताल ले जाया गया। जहां उन्होंने दम तोड़ दिया।  एस्कॉर्ट पार्टी इस इलाके में पुलिस वाहन के रिपेयरिंग के लिए गई थी।

इससे पहले, सुरक्षाबलों ने अनंतनाग में हिज्बुल के दो शीर्ष आतंकियों को मार गिराया था। मारे गए आतंकियों की पहचान शीर्ष हिज्बुल कमांडर अल्ताफ अहमद डार उर्फ अल्ताफ कचरू और उसके सहयोगी उमर राशिद के रूप में हुई। अल्ताफ अहमद डार उर्फ कचरू बुरहान वानी का करीबी भी था। हिज्बुल मुजाहिद्दीन का ये आतंकी कुलगाम में डिस्ट्रिक्ट कमांडर के रूप में कई वर्षों से सुरक्षा बलों को निशाना बना रहा था। कचरू घाटी में बुरहान की जगह लेना चाहता था। बताया जा रहा है कि शोपियां का हमला अनंतनाग आॅपरेशन में सेना और पुलिस की कार्रवाई से बौखलाए आतंकवादियों ने किया है।

बता दें कि जम्मू-कश्‍मीर के शोपियां से ही दो दिन पहले एक स्पेशल पुलिस अफसर एके—47 के साथ गायब हो गया था। पुलिस ने गायब हुए एसपीओ की तलाश में पूरे दक्षिण कश्मीर में सर्च आॅपरेशन चला रखा था। फरार एसपीओ की पहचान हरमेन गांव के रहने वाले शौकत अहमद के रूप में हुई है। पुलिस को उसके गायब होने का अहसास 25 अगस्त को हुआ। जब हथियारों की जांच में एक एके—47 कम पाई गई थी। इसके बाद छानबीन में ये पता चला कि शौकत अहमद एके—47 के साथ गायब है और उसका मोबाइल भी बंद था। पुलिस को शक है कि शौकत संभवत: आतंकियों से मिल गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App