जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने फिर की 2 टीचरों की हत्या, हालही में 3 हत्या के मामलों से कांप उठी थी घाटी

हालही में आतंकियों ने एक कश्मीरी पंडित समेत 3 लोगों की हत्या कर दी थी। उसके बाद इन 2 टीचरों की हत्या कर आतंकी ये संदेश देना चाह रहे हैं कि वे घाटी में फिर से एक्टिव हो चुके हैं।

Terrorists
जम्मू कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ अभियान जारी है, फिर भी आतंकी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। (प्रतीकात्मक फोटो)

जम्मू कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ अभियान जारी है, फिर भी आतंकी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। ताजा मामला ये है कि श्रीनगर के ईदगाह में गुरुवार को आतंकियों ने 2 सरकारी स्कूल के शिक्षकों की गोली मारकर हत्या कर दी। ये जानकारी पुलिस ने दी है।

पुलिस अधिकारी ने पीटीआई को बताया कि आतंकियों ने सुबह करीब 11.15 बजे 2 स्कूल टीचरों को श्रीनगर के संगम ईदगाह में गोली मारी।

उन्होंने कहा कि इलाके की घेराबंदी कर दी गई है और हमलावरों को पकड़ने के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। मृतकों की पहचान अलोची बाग क्षेत्र निवासी सुपिन्दर कौर और जम्मू निवासी दीपक चंद के रूप में हुई है। वे सरकारी बॉयज स्कूल, संगम में टीचर थे।

बता दें कि आतंकियों के हौसले घाटी में फिर से बुलंद हो गए हैं। हालही में आतंकियों ने एक कश्मीरी पंडित समेत 3 लोगों की हत्या कर दी थी। उसके बाद इन 2 टीचरों की हत्या कर आतंकी ये संदेश देना चाह रहे हैं कि वे घाटी में फिर से एक्टिव हो चुके हैं।

बता दें कि आतंकियों ने मंगलवार को दवा विक्रेता माखन लाल बिंदरू की हत्या कर दी थी। माखन कश्मीरी पंडित थे और उन्हें आतंकियों ने कई बार कश्मीर छोड़ने की धमकी दी थी, लेकिन बिंदरू ने ऐसा नहीं किया और इसी खुन्नस में आतंकियों ने उनकी दुकान के बाहर उन्हें गोली मार दी।

आतंकियों ने श्रीनगर के इकबाल पार्क के पास माखन लाल बिंदूरू को गोली मारी, उन्हें हॉस्पिटल ले जाया गया, लेकिन डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इस घटना के एक घंटे बाद आतंकियों ने हावल के मदीन साहिब एरिया में बिहार के एक स्ट्रीट वेंडर वीरेंदर पासवान को गोली मार दी। इसके बाद आतंकियों ने टैक्सी एसोसिएशन के मालिक मोहम्मद शफी लोन को बांदीपोरा के शहगुंद गांव में गोली मारी।

इस घटना पर जम्मू-कश्मीर के पुलिस प्रमुख दिलबाग सिंह का भी बयान सामने आया है। उन्होंने कहा है कि हालही में आतंकियों ने नागरिकों और विशेष रूप से कश्मीर घाटी के अल्पसंख्यक समुदायों के सदस्यों की हत्या के उद्देश्य से भय का माहौल बनाने की कोशिश की है और सदियों पुराने सांप्रदायिक सद्भाव को नुकसान पहुंचाया है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट